आश्रम में लेडीज ट्वायलेट में सीसीटीवी कैमरे लगवाने वाले बाबा को SC से नहीं मिली जमानत

Oct 05, 2016
आश्रम में लेडीज ट्वायलेट में सीसीटीवी कैमरे लगवाने वाले बाबा को SC से नहीं मिली जमानत

बाबा रामपाल की जमानत याचिका सुप्रीम कोर्ट ने ये कहते हुये खारिज कर दी की आप जूनियर इंजिनियर से धर्मगुरु बन गए। इसके बाद आपने पुलिस पर हमला किया, ऐसे में आपको जेल में ही रहना होगा।

असल में बाबा सतलोक आश्रम के मुखिया थे जिन्हें कुछ साल पहले हत्या के जुर्म में गिरफ्तार कर लिया था। इनके आश्रम से पुलिस को चौकाने वाली चीजे मिली थी। आश्रम कें अंदर स्विमिंग पूल, एलईडी टीवी से लेकर हॉस्पिटल तक था। आश्रम में लेडीज ट्वायलेट में सीसीटीवी कैमरे मिले थे। इसके अलावा आश्रम में कंडोम और अश्लील साहित्य भी बरामद हुए थे।

ये भी पढ़ें :-  चुनाव आयोग ने गिराई कई अफ़सरों पर गाज, बदले डीएम और कप्तान

2006 में स्वामी दयानंद की लिखी एक किताब पर बाबा रामपाल ने टिप्पणी किया था जो आर्यसमाज को बेहद नागवार गुजरा जिसके बाद दोनों समर्थकों के बीच हिंसक झडप हुई। इस हिंसा में एक व्यक्ति की मौत भी हो गई थी। जिसके बाद पुलिस ने 13 जुलाई 2006 को आश्रम को कब्जे में ले लिया। उन्हें 21 महीने जेल में बिताने पड़े। मई 2014 में आश्रम में एक बार फिर हिंसक झड़प हुई, जिसमें दो लोगों की मोत हो गई थी। कोर्ट ने रामपाल को नोटिस भेजा लेकिन वो पेश नहीं हुआ जिसके बाद कोर्ट के आदेश का अवहेलना करने पर उन्हें भारी हंगामे के बीच गिरफ्तार कर लिया गया था।

ये भी पढ़ें :-  पीलीभीत : जागरूक अभियान के तहत सिटी मजिस्ट्रेट और SDM ने मतदाताओं को दिलाई शपथ

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected