भारत पहुंचा किरपाल सिंह का शव, हत्या की आशंका मिले चोट के निशान

Apr 19, 2016

नई दिल्ली। कथित भारतीय जासूस किरपाल सिंह का शव भारत पहुंच गया है। पाकिस्तान ने मंगलवार को किरपाल सिंह का शव भारतीय अधिकारियों को सौंपा। लाहौर जेल में बंद किरपाल सिंह की मौत संदिग्ध परिस्थितियों में हुई थी। पाकिस्तानी अधिकारियों के मुताबिक उन्हें हार्ट अटैक आया था। किरपाल सिंह का अमृतसर में दोबारा पोस्टमार्टम किया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तान ने अटारी सीमा पर सीमा सुरक्षा बल के अधिकारियों को कृपाल सिंह का शव सौंपा। बाघा बॉर्डर पर अधिकारियों ने शव लिया जहां जांच की गई। इसके बाद अमृतसर में उनके शव का पोस्टमार्टम किया गया। इस दौरान उनके परिवारवालों के रोने से पूरा माहौल गमगीन हो गया।

किरपाल सिंह और सरबजीत सिंह की बहनों ने मिलकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मिलकर किरपाल सिंह के शव की मांग की थी। भारत ने उच्च स्तर पर पाकिस्तान से किरपाल सिंह का शव भारत को सौंपने के लिए कहा था।

परिजनों ने मारपीट का लगाया आरोप किरपाल के परिवारवालों के कहना है कि उनके चेहरे और शरीर पर चोट के निशान हैं। उन्होंने किरपाल सिंह के साथ मारपीट की आशंका जताई है। किरपाल सिंह सरबजीत सिंह के साथ जेल में थे।

20 साल से काट रहे थे सजा
पचास साल के किरपाल सिंह 1992 में कथित तौर पर वाघा सीमा से पाकिस्तान में घुसे थे जिन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था । बाद में उन्हें पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में बम विस्फोटों के आरोप में मौत की सजा सुनाई गई थी । किरपाल 20 साल से सजा काट रहे थे।

उसकी बहन जगीर कौर ने कहा था कि उनका परिवार आर्थिक तंगी की वजह से उनकी रिहाई की आवाज नहीं उठा सका तथा उनके मामले को उठाने के लिए कोई नेता आगे नहीं आया । जगीर कौर ने कहा था कि वो 24 साल से किरपाल का इंतजार कर रही थी, अब उनका शव ही दे दिया जाए।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>