पुलिस हिरासत में खालिद मुजाहिद की मौत के तीन साल पूरे, अभी तक नहीं पूरी हुई मौत की जाँच

Jun 07, 2016

इलाहाबाद: पुलिस हिरासत में खालिद मुजाहिद की मौत के तीन साल पूरे हो चुके हैं, लेकिन अब तक मौत की जाँच पूरी नहीं हो पाई है। खालिद मुजाहिद के वकील फरमान अहमद नकवी ने यूपी पुलिस सूचना में देरी को लेकर गंभीर सवाल उठाए हैं।

आतंकवाद के आरोप में गिरफ्तार खालिद मुजाहिद की पुलिस हिरासत में मौत के तीन साल से अधिक समय बीत चुका है। इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच के आदेश पर राज्य सरकार ने खालिद मुजाहिद की मौत की जांच सीबी सीआईडी ​​के माध्यम कराने का वादा किया था, लेकिन काफी समय बीत जाने के बाद भी खालिद मुजाहिद मौत की जांच में अभी तक कोई प्रगति नहीं हो सकी है।

ये भी पढ़ें :-  10वीं,12वीं पास के लिए खुशखबरी- यहां चल रही है भर्ती, मिलेगी 34000 हजार सैलरी

कानून के जानकार फरमान अहमद नकवी का कहना है कि सीबी सीआईडी ​​की जांच की आड़ में यूपी पुलिस इस पूरे मामले पर पर्दा डालने की कोशिश कर रही है। फरमान अहमद नकवी का कहना है कि चूंकि खालिद मुजाहिद की मौत पुलिस हिरासत में हुई थी और पुलिस अधिकारी ही इस मामले में आरोपी हैं, ऐसे में एक पारदर्शी और निष्पक्ष रिपोर्ट की उम्मीद रखना व्यर्थ हो गया है।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected