‘केजरीवाल सरकार को हटाकर राष्ट्रपति शासन लगा सकता है केंद्र’

Feb 12, 2017
‘केजरीवाल सरकार को हटाकर राष्ट्रपति शासन लगा सकता है केंद्र’
नई दिल्ली: प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव की पार्टी स्वराज इंडिया ने सनसनीखेज दावा किया है. कहा है कि केंद्र सरकार दिल्ली में केजरीवाल सरकार को हटाकर राष्ट्रपति शासन लगा सकती है. पार्टी ने दिल्ली के रामलीला मैदान में दिल्ली से जुड़े मुद्दों पर केंद्र, राज्य, निगम सरकारों से सवाल किए. रैली में असली निशाना दिल्ली के सीएम और प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव के पुराने साथी अरविंद केजरीवाल रहे.
क्या बोले शांति भूषण 
स्वराज अभियान की इस रैली में वरिष्ठ वकील शांति भूषण ने एक बड़ा दावा किया. दावा किया कि केंद्र सरकार इस साल दिल्ली सरकार को हटा कर राष्ट्रपति शासन लागू कर सकती है.शांति भूषण ने कहा, ”इन्होंने दिल्ली के संविधान को समझा ही नहीं, संविधान के खिलाफ ही काम किया. केंद्र ने एक जांच कमेटी बनाई थी उसने अपनी रिपोर्ट में केंद्र को बताया है. दिल्ली की सरकार कहती है कि हमें पूरा अधिकार है जबकि संविधान इन्हें अधिकार नहीं देता. संविधान में लिखा है कि अगर कोई सरकार संविधान के खिलाफ काम करती है तो उसे हटाकर राष्ट्रपति शासन लगाया जा सकता है.”
मामले के सुप्रीम कोर्ट में लंबित होने के सवाल पर शांति भूषण ने कहा, ”संविधान में धारा इतनी स्पष्ट है कि सुप्रीम कोर्ट दिल्ली हाई कोर्ट के फैसले को पलट ही नहीं सकता. कोई चुनी सरकार जिसे 90% सीट भी आयीं हों वो भी अगर संविधान के खिलाफ काम करेगी तो उसे हटाया जा सकता है.”
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>