गंगा मां की तरह काशी बहती रहे, यही मेरी चाहत है : प्रधानमंत्री

Mar 04, 2017
गंगा मां की तरह काशी बहती रहे, यही मेरी चाहत है : प्रधानमंत्री

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के अंतिम चरण में प्रचार के लिए अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि ऐसा शहर जहां विरासत भी हो वाईफाई भी हो, संस्कृति भी हो और सफाई भी हो। गंगा मां की तरह ये काशी बहती रहे, कभी स्थिर न हो यही मेरी दिली इच्छा है। वाराणसी के टाउनहॉल मैदान में एक जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने ये बातें कही। उन्होंने कहा, “मैं प्रधानमंत्री और सांसद के साथ-साथ भाजपा का एक कार्यकर्ता भी हूं।”

मोदी ने कहा, “लोकसभा चुनाव 2014 में चुनाव आयोग ने मुझे सभा नहीं करने दी, इसकी कसक मुझे आज भी है। लेकिन काशी के लोगों ने मुझे प्यार दिया और भारी बहुमत से मुझे विजयी बनाया।”

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज कसते हुए मोदी ने कहा कि वो रोज झूठ बोलते थे, लेकिन आज जब वह मंदिर जा रहे थे, तब बिजली चली गई, भोले बाबा ने खुद पर्चा दिखा दिया।

उन्होंने कहा, “हमने एलईडी बल्ब के दाम कम किए तो इससे लोगों का पैसा बच रहा है। गंगा घाट पर एलईडी लाइट लगने से वहां की चमक बढ़ गई है। साथ ही हम बनारस में सब स्टेशन बनाने का काम कर रहे हैं, ताकि बिजली की कोई दिक्कत नहीं हो।”

प्रधानमंत्री ने कहा, “आपका प्यार और आशीर्वाद मुझे यहां बार-बार खींचकर ले आता है। काशी अपने आप में मानव जाति के लिए एक संदेश है। मानवता का प्रतीक है। यहां से अनेक महापुरुषों के नाम जुड़े हैं, अनेक गाथाएं जुड़ी हैं, हमें इसका कायाकल्प करना है।”

मोदी ने कहा, “अटल जी के जाने के बाद रिंग रोड का काम रुका था, लेकिन हमने उसे चालू करवा दिया। हवाईअड्डा से आने वाली सड़क अब सही हो गई है, ये काम सबको दिखता है, लेकिन अखिलेश जी को नहीं दिखता है।”

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>