कन्हैया कुमार तिहाड़ से बाहर आया, जमानत पर रिहा

Mar 03, 2016

जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार को गुरुवार को तिहाड़ जेल से रिहा कर दिया गया. उसके समर्थकों ने उसकी रिहाई का जश्न मनाया.

कन्हैया को देशद्रोह के मामले में तीन हफ्ते पहले गिरफ्तार किया गया था.

दिल्ली हाईकोर्ट ने कल उसे छह महीने की अंतरिम जमानत दी थी. उसे इस शर्त पर जमानत दी गयी कि वह जांच में सहयोग करेगा और उसे जब एवं जहां भी जरूरी पड़े पुलिस के सामने पेश होना होगा.

अतिरिक्त महानिरीक्षक (जेल) और तिहाड़ के प्रवक्ता मुकेश प्रसाद ने कहा, ”कन्हैया के जमानत मुचलके और रिहाई के आदेश की सही तरीके से जांच के बाद उसे शाम करीब साढ़े छह बजे जेल से रिहा कर दिया गया.”

कन्हैया को जेएनयू परिसर में आयोजित किए गए एक कार्यक्रम के सिलसिले में 12 फरवरी को गिरफ्तार किया गया था. कार्यक्रम में कथित रूप से संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरू की फांसी के खिलाफ प्रदर्शन किया गया और राष्ट्र विरोधी नारेबाजी की गयी.

जेएनयू छात्र संघ के नेता के समर्थकों ने कन्हैया के जेल से बाहर आने के साथ उसका जोरदार स्वागत किया. जेएनयू परिसर में भी जश्न मनाया गया. इससे पहले दिन में शहर की एक अदालत ने कन्हैया के जमानत मुचलका पेश करने के बाद कन्हैया की रिहाई का आदेश जारी किया.

जेल अधिकारियों ने कहा कि शाम करीब पांच बजे उन्हें कन्हैया की रिहाई संबंधी दस्तावेज मिले. जब डेढ़ घंटे बाद उसे रिहा किया गया तब जेल के द्वार पर जेएनयू के कुछ शिक्षक उसका इंतजार कर रहे थे.

उन्होंने कहा, ”उसे जेल के द्वार तक लाया गया और वहां मौजूद कुछ शिक्षकों एवं दूसरे लोगों के हवाले कर दिया गया.”

 

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>