कश्मीर जाने के लिए, JUD का चिकित्सा दल भारतीय वीजा के लिए आवेदन करेगा

Jul 26, 2016

मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद की अगुवाई वाले संगठन जमात-उद-दावा (जेयूडी) ने 30 सदस्यों का एक समूह कश्मीर घाटी में हिंसा के दौरान घायल हुए लोगों के उपचार और दवाएं प्रदान करने का हवाला देकरभारतीय वीजा के लिए आवेदन करेगा.

जेयूडी के एक पदाधिकारी अहमद नदीम ने बताया, ‘‘मुस्लिम मेडिकल मिशन (जेयूडी की इकाई) के 30 चिकित्सक और चिकित्साकर्मी मंगलवार को वीजा के लिए आवेदन करेंगे ताकि वे कश्मीर में उन लोगों के उपचार के लिए जा सकें जो भारतीय सेना के साथ झड़पों में घायल हुए हैं. नेत्र रोग विशेषज्ञ भी इस दल का हिस्सा हैं जो उन लोगों का उपचार करेंगे जिनकी आंखों में चोटे आई हैं.’’
यह पूछे जाने पर कि मौजूदा हालात में इस्लामाबाद स्थित भारतीय दूतावास इस चिकित्सा दल के आवेदन पर कैसे विचार करेगा तो नदीम ने कहा कि मुस्लिम मेडिकल मिशन इस संदर्भ में मदद के लिए पाकिस्तानी सरकार से आग्रह करेगा.
इस बीच, मिशन के अध्यक्ष डॉक्टर जफर इकबाल चौधरी ने कहा कि अगर भारत सरकार इस चिकित्सा दल को श्रीनगर जाने की इजाजत देने पर विचार नहीं करती तो इसके विरोध में प्रदर्शन किया जाएगा.
चौधरी ने कहा कि ‘घायल कश्मीरियों के उपचार के लिए उन तक पहुंचना हमारी जिम्मेदारी है क्योंकि भारत सरकार घायलों को पूरी तरह से चिकित्सा सुविधा प्रदान नहीं कर रही है.’
मिशन के अध्यक्ष ने आरोप लगाया, ‘‘तीन सदस्यीय भारतीय चिकित्सकों का दल घायलों का उपचार किए बिना श्रीनगर से लौट आया.’’
‘दफा-ए-पाकिस्तान काउंसिल’ (डीपीसी) के बैनर तले करीब 40 संगठन कश्मीर में हिंसा को लेकर भारत के खिलाफ 31 जुलाई को लाहौर से वाघा सीमा तक मार्च निकालेंगे. जेयूडी डीपीसी में मुख्य संगठन है.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

ये भी पढ़ें :-  अमेरिका ने कहा-एनएसजी का सदस्य बनने का भारत हकदार, मगर चीन डाल रहा अड़ंगा
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected