कश्मीर, गैस के गोले और शॉट गन की गोलियाँ चली, सौ लोग घायल

Sep 05, 2016
कश्मीर, गैस के गोले और शॉट गन की गोलियाँ चली, सौ लोग घायल

भारत प्रशासित राज्य जम्मू-कश्मीर में हजारों लोगों ने फोर्सेज की चीरा दस्तों और अत्याचार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किए हैं. भारती बलों ने प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए आंसू और गैस के गोले फेंके और शॉट गन की गोलियाँ चलाई हैं जिससे कम से कम एक सौ लोग घायल हो गए हैं।

भारतीय पुलिस अधिकारी का कहना है कि रविवार को उस समय झड़पें शुरू हुइ जब पुलिस ने जिले शोपियां के एक गांव की ओर मार्च करने वाले लोगों को रोकने की कोशिश की थी। अधिकृत कश्मीर के विभिन्न हुर्रियत समूहों ने विरोध मार्च की अपील की थी।
उधर श्रीनगर में सर्वदलीय हुर्रियत कांफ्रेंस के लीडरों ने नई दिल्ली से भारतीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के नेतृत्व में आने वाले सांसदों के दल से मुलाकात से इनकार कर दिया है. लीडर कश्मीर में स्थिति को सामान्य करने के क्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों के संबंध में आया है।
आपको बता दें कि पूरी कश्मीर घाटी में अग्रणी हुर्रियत पसंद संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के एक कमांडर बुरहान वाणी के एक जुलाई को कथित हत्याओं के बाद से स्थिति तनावपूर्ण है और कश्मीरी सरापा विरोध बने हुए हैं . राज्यी सरकार ने शांति और व्यवस्था की बदतर स्थिति पर काबू पाने के लिए शहरों और कस्बों में कर्फ्यू रखा है, संचार अंधकार जारी है और भारतीय सेना ने विरोध प्रदर्शन करने वाले कश्मीरियों के खिलाफ क्रेक डाउन जारी रखा है।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>