भारतीय सहायता कर्मी जुडिथ डिसूजा मुक्त, भारत लौटीं

Jul 25, 2016

पिछले महीने काबुल में संदिग्ध आतंकवादियों द्वारा अगवा कर ली गईं भारतीय सहायता कर्मी जुडिथ डिसूजा मुक्त कराए जाने के बाद शनिवार को अपने घर लौट आई.

काबुल से लौटने के तुरंत बाद जुडिथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की.

मोदी ने जुडिथ का भारत में स्वागत किया और उन्हें मुक्त कराने में सहयोग के लिए अफगान राष्ट्रपति अशरफ गनी का शुक्रिया अदा किया. जुडिथ से मिलने के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ‘जुडिथ को घर लाने में सहयोग करने के लिए अफगानिस्तान की सरकार, खासकर राष्ट्रपति अशरफ गनी, का शुक्रिया अदा करना चाहूंगा.’

आगा खान फाउंडेशन में वरिष्ठ तकनीकी सलाहकार के रूप में काम करने वाली 40 वर्षीय जुडिथ डिसूजा को काबुल से उनके कार्यालय से बाहर नौ जुलाई को अगवा कर लिया गया था.

अफगानिस्तान में भारत के राजदूत मनप्रीत वोहरा के साथ जुडिथ शाम छह बजे यहां इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा पहुंचीं और इसके बाद वह सीधा सुषमा के आवास पर गई.

काफी भावुक नजर आ रही सुषमा ने जुडिथ को गले लगाते हुए कहा, ‘बेटी घर लौट आई है.’ विदेश मंत्रालय में राज्य मंत्री वी के सिंह और एम जे अकबर भी इस मौके पर मौजूद थे.

 

बाद में सुषमा अपने साथ जुडिथ को लेकर मोदी से मिलने गई. सुषमा ने सुबह के वक्त ट्वीट कर कहा, ‘मुझे आपको बताते हुए खुशी हो रही है कि जुडिथ डिसूजा को मुक्त करा लिया गया है.’

उन्होंने जुडिथ की रिहाई सुनिश्चित करने में अफगान अधिकारियों की ‘मदद और समर्थन’ के लिए उन्हें भी धन्यवाद दिया. अभी यह पता नहीं चल सका है कि जुडिथ को किसने अगवा किया था और उन्हें कैसे मुक्त कराया गया. दो अन्य लोगों के साथ उन्हें अगवा किया गया था.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>