कासगंज हिंसा पर पत्रकार का विवादित ट्वीट- ‘हमेशा हथियार पास रखो और उन्हें मार दो’

Jan 29, 2018
कासगंज हिंसा पर पत्रकार का विवादित ट्वीट- ‘हमेशा हथियार पास रखो और उन्हें मार दो’

इन दिनों देश में मुस्लिम समुदाय के खिलाफ विवादस्पद बयानों का काफी बोल बाला है। हर नेता मौका मिलते ही मुस्लिम समुदाय के खिलाफ एक से बडकर एक बयान देते रहते हैं। लेकिन आपको जानकार बड़ी हैरानी होगी कि ज़ी न्यूज़ की पूर्व महिला एंकर जागृति शुक्ला ने उत्तरप्रदेश के कासगंज में हुई हिंसा को भड़काने की कोशिश की है। उन्होंने एक समुदाय को हिंसा के लिए खुलेआम उकसाया है।

बता दें कि उनका ट्वीट सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। जागृति शुक्ला ने सोमवार को ट्वीट कर कहा कि “उन्‍होंने हमें ट्रेन में मारा, हमारे विमान लूटे, होटल में हमें बंधक बनाया, हमें कश्‍मीर से भागने पर मजबूर किया और अब गणतंत्र दिवस पर तिरंगा फहराने के लिए मार रहे हैं। सच ये है कि हम डर में रहते हैं, वो नहीं। अब और नहीं। हमेशा घातक हथियार साथ में रखिए. उन्‍हें मार दीजिए, इससे पहले वो हमें मार दें।”

इनके इस ट्वीट को वायरल होते ही इसे लेकर जागृति के खिलाफ लगो कार्रवाई की मांग करने लगे हैं। वरिष्ट पत्रकारों सहित कई बुद्धिजीवियों ने दिल्ली पुलिस को ट्वीट कर जागृति के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। इस सिलसिले में ब्‍लॉगर रिचा सिंह ने लिखा है कि, “अभी भी जागृति शुक्‍ला के ट्वीट से उबर नहीं सकी हूं। उन्‍हें इतनी हिम्‍मत कहां से मिलती है? क्‍या यह एक तथ्‍य है कि उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होगी क्‍योंक‍ि वर्तमान सरकार इन्‍हीं सांप्रदायिक भावनाओं पर आगे बढ़ती है।”
यहाँ पढ़ए ट्वीट……

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>