आईटी कंपनियों में जॉब का सपना देख रहे फ्रेशर्स के लिए बुरी खबर

Apr 28, 2016

देश की आईटी इंडस्ट्री में अपना भविष्य देख रहे नए इंजीनियर्स के लिए बुरी खबर है।आई टी सेक्टर में अब फ्रेशर्स को ज्यादा सैलरी नहीं दी जाएगी। मंदी के कारण देश की आईटी सेक्टर की कंपनियों ने पिछले साल सिर्फ 160 करोड़ का करोबार किया है। इस घाटे के कारण कंपनियों ने फैसला किया है कि वो फ्रेशर्स की सैलरी ज्यादा नहीं देंगे।
आने वाले समय में भी ऐसे आसार नहीं दिख रहे हैं कि कंपनियां नए इंजीनियर्स को ज्यादा वेतन पर रखें। कंपनियां अपने पुराने वेतनमान पर ही नए लोगों की भर्तियां करेंगी। टीसीएस , इंफोसिस और विप्रो जैसे बड़ी कंपनियों के सूत्रों ने खुलासा किया है कि आईटी सेक्टर की बड़ी कंपनियां नए इंजीनियर्स को ज्यादा सैलरी देने की हालत में नहीं हैं।

पिछले साल कोई मुनाफा न होने के कारण कंपनियों की आर्थिक हालत बेहद खराब है। भारत की बड़ी आउटसोर्सिंग फर्में भी न्यूतम मजदूरी में बदलाव करने की हालत में नहीं हैं। सिटी ग्रुप और जरनल इलेक्ट्रिक जैसी बड़ी कंपनियों को ज्यादा बचत नहीं हो पा रही है। देश में बढ़ती महंगाई से उन्हें खरीदार नहीं मिल रहे हैं। इसके कारण उन्हें व्यापार में काफी नुकसान हो रहा है।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>