झारखण्ड: 900 से ज्यादा मरीजों को बिना इलाज के ही लौटाया, तीन हो गए बेहोश

Aug 31, 2016
झारखण्ड: 900 से ज्यादा मरीजों को बिना इलाज के ही लौटाया, तीन हो गए बेहोश
पीएमसीएच ओपीडी में सोमवार को ऑनलाइन पंजीयन ठप हो जाने से 900 से ज्यादा मरीजों को बिना इलाज के ही लौटना पड़ा। वापस लौटनेवालों में ज्यादातर गिरिडीह, देवघर, जामताड़ा, बोकारो आदि जिलों से आए मरीज थे।
हिंदुस्तान अख़बार की खबर के मुताबिक पीएमसीएच में मरीजों की हालत इतनी बिगड़ी कि कतार में खडे़ एक किशोर समेत तीन मरीज बेहोश हो गए। कतार ओपीडी ब्लॉक से सड़क तक पहुंची थी।
अंडाल से आई चिंता देवी के अनुसार अपने पति बाबूलाल चौधरी के साथ वो सुबह 10 बजे पीएमसीएच पहुंच गई थी। इसके बाद भी उनकी पर्ची नहीं बन सकी। ओपीडी का पंजीयन काउंटर सुबह 8.30 बजे खुला और 11 बजे तक लगभग एक हजार लोगों का ऑनलाइन पंजीयन किया गया। इसके बाद साफ्टवेयर ने करना बंद कर दिया।
काफी प्रयास के बाद भी सॉफ्टवेयर ठीक नहीं हुआ, तो हाथ से पर्ची बनाई जाने लगी। नतीजा 1694 (सुबह की ओपीडी में 1462 और शाम की ओपीडी में 222) मरीजों का ही पंजीयन हो सका, जबकि सप्ताह का पहला दिन होने के कारण ओपीडी में लगभग 2600 मरीज पहुंचे थे।
पर्ची बनने में देरी को लेकर लोगों ने कई बार हंगामा किया। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए होमगार्ड जवानों को तैनात करना पड़ा। पीएमसीएच के उपाधीक्षक डॉ. पीके घोष ने कहा कि आज भीड़ ज्यादा होने के कारण परेशानी हुई। मंगलवार से भीड़ कम होगी। कंप्यूटर बनवाने का भी निर्देश दे दिया गया है।
अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>