झांसी का नामी वकील, क्लाइंट्स से फीस के तौर पर मांगता था उनकी बीवी

Jun 30, 2016

झांसी. शहर के नामी वकील चंद्रशेखर शुक्ल पर धमकाकर रेप करने का आरोप लगा है। पीड़िता के मुताबिक, शुक्ल ने एक केस निपटाने और उसके पति को झूठे केस में फंसाने की धमकी देकर उसका शारीरिक शोषण किया। साथ ही, वकील ने रेप का MMS बनाया। पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी वकील को गिरफ्तार कर लिया है।

क्लाइंट्स से फीस के तौर पर लेता था उनकी बीवी!
पीड़िता का दावा है कि आरोपी वकील अपने कई क्लाइंट्स के साथ ऐसी ज्यादती कर चुका है। महिला का कहना है कि शुक्ल दर्जनों महिलाओं का शारीरिक शोषण कर चुका है। “वकील चंद्रशेखर शुक्ल गंभीर मामलों में फंसे लोगों की पत्नियों को आसान शिकार समझता था। उसने अपने कई क्लाइंट्स की पत्नियों को झांसे में लेकर शोषण किया। कई क्लाइंट्स जेल या सजा से बचने के लिए खुद ही अपनी पत्नी को वकील के पास लेकर आते थे।”
पत्नी के फोन से कॉल करना पड़ा महंगा?
एडवोकेट चन्द्रशेखर शुक्ल झांसी का नामी वकील है। कोतवाली इलाके में रहने वाली महिला ने वकील और उसके बिजनेसमैन दीपक लिखधारी के खिलाफ सीपरी बाज़ार थाना में रेप का मामला दर्ज कराया है। महिला के मुताबिक, उसके पति एक मंदिर का केस लेकर शुक्ल से मिले थे। एक बार पति ने पीड़ित महिला के मोबाइल से वकील को किसी काम से फ़ोन किया। वकील को जब पता चला कि नंबर क्लाइंट की पत्नी का है, तो उसने महिला को फोन करना शुरू कर दिया। “वकील मुझसे फोन पर अभद्र बातें करता था। जब मैंने उससे बात करने से मना किया तो उसने मेरे पति को जेल भिजवाने की धमकी दे डाली।”

ये भी पढ़ें :-  साइकिल खटारा हो गई, हाथी बूढ़ा हो चला है- गृहमंत्री राजनाथ

जेठ को भिजवा दिया जेल, फिर किया रेप!
महिला ने बताया, “वकील ने मेरे जेठ को एक मामले में फंसाकर जेल भिजवा दिया। इससे मैं डर गई और उसके चंगुल में फंस गई।” पीड़िता के मुताबिक, वकील ने उसे कई जगहों पर बुलाया और दोस्त दीपक लिखधारी के साथ मिलकर उसका शारीरिक शोषण किया। “उन दोनों ने मेरे साथ रेप किया और उसकी वीडियो क्लिप बनाई। फिर मुझे धमकी देने लगे कि MMS वायरल कर देंगे। इसी का डर दिखाकर उन्होंने मुझ पर अन्य आदमियों के साथ भी सोने के लिए दबाव बनाया। तब परेशान होकर मैंने पुलिस से मदद मांगी,”
नामी वकील है शुक्ल….
रेप का आरोपी शहर का जाना-माना और दबंग वकील है। वह केस के लिए महंगी फीस वसूलता है। एसएसपी समेत कई नामी-गिरामी लोगों के साथ उसके फोटो भी हैं। एसएसपी मनोज तिवारी ने बताया कि तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। प्राथमिक जांच में मामला सही पाया गया है। आरोपियों को पकड़ने के लिए टीम गठित की गई है और एक आरोप गिरफ्तार भी हो चुका है।

ये भी पढ़ें :-  बिजली न आने का इल्जाम लगाने वाले योगी आदित्यनाथ तार छूकर दिखाएं

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected