जयपुर: घोटाले के लिए गोभक्तों ने 6 नवंबर के दिन मार दी थीं 3954 गायें

Aug 06, 2016

देशभर में गोरक्षा के नाम पर इंसानों की चमड़ी उधेड़ी जा रही है और राजस्थान में गायें इन्हीं धर्म के ठेकेदारों द्वारा भूख प्यास से तड़पा-तड़पा कर मारी जा रही हैं। जयपुर की हिंगोनिया गोशाला में पिछले दस दिनों में 200 से ज्यादा गायें भूख प्यास से तड़प- तड़प कर मरने का मामला सामने आने के बाद कथित गोभक्तों की भी पोल खुल गई है। इस मामले में कोई भी गोभक्त जवाब देने के लिए तैयार नहीं हो रहा है।

हिंगानिया गोशाला में गायों की मौत का यह मामला नया नहीं है। इससे पहले पिछले साल दैनिक भास्कर ने एक रिपोर्ट छापी थी। इसके अनुसार 6 नवंबर को एक ही दिन में 3954 गायें मार दी गईं। यह सब सच्चाई नहीं बल्कि गोभक्तों का घोटाला था।

दरअसल ये 7515 गायों के चारे का पैसा सरकार से ले रहे थे। तभी उनकी गिनती हुई जिसमें सिर्फ 3921 गायें मिलीं। इसके बाद इन गोभक्त गोपालकों को घोटाला कवर करना था इसलिए एक दिन पहले 3954 गायों की मौत दर्शा दी। इस तरह दस महीने में 1.21 करोड़ रुपये के घोटाले पर पर्दा डाला गया।

इस मामले में धर्मेंद्र कुमार जाटव ने भास्कर की रिपोर्ट शेयर करते हुए लिखा है…..
ऐसा नहीं है कि जयपुर कि हिंगोनिया गौशाला पहली बार खबर मे रही हो, गौपुत्रो के लिए यह शुरू से सोने कि खान साबित होती रही है।
यह एक साल पहले कि न्यूज है,
पिछली बार घोटाला खुलने के डर सेएक दिन मे 3954 गायें मारी थी,

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>