मुख्तार अंसारी को आगरा सेंट्रल जेल भेजने के बजाय, बांदा जेल भेजने का फरमान जारी

Mar 30, 2017
मुख्तार अंसारी को आगरा सेंट्रल जेल भेजने के बजाय, बांदा जेल भेजने का फरमान जारी

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को सोमवार को लखनऊ जिला कारागार से आगरा सेंट्रल जेल भेजने का आदेश जारी किया गया था जो अब निरस्त करके लखनऊ से बांदा जेल भेजा जा रहा है।

भाजपा की सरकार बनने के साथ ही 16 मार्च को एडीजी जेल जीएल मीणा ने मुख्तार को लखनऊ से आगरा जेल भेजने की सिफारिश की थी। अपर पुलिस महानिदेशक कारागार गोपाल लाल मीणा ने बताया कि मुख्तार को लखनऊ से बांदा जिला कारागार में स्थानांतरित करने के आदेश जारी हो गए हैं। आगरा जेल भेजने का आदेश निरस्त करते हुए फिर उनकी जेल बदल दी गई हैं। अब गुरुवार की देर रात्रि तक मुख्तार को बांदा जेल में दाखिल किया जा सकता है। मुख्तार अंसारी छह साल तक आगरा की सेंट्रल जेल में रहे। 20 जून 2016 को उन्हें आगरा सेंट्रल जेल से लखनऊ जिला जेल स्थानांतरित किया गया था।

इसी बीच मुख्तार अंसारी विधानसभा में शपथ लेने पहुंचे और आरोप लगाया कि गाजीपुर के सांसद मनोज सिन्हा, बृजेश सिन्हा के साथ मिलकर मेरी हत्या करा सकते है। उन्होंने कहा कि इन दोनों नेताओं को राजनाथ सिंह का संरक्षण प्राप्त है। ऐसे में एक जेल से दूसरी जेल भेजने के दौरान बीच रास्तें में मेरी हत्या कराई जा सकती हैं। मुख्तार अंसारी ने योगी आदित्यनाथ सरकार से पर्याप्त सुरक्षा देने की मांग की है। उन्होंने कहा कि इसके लिए वे सुप्रीम कोर्ट जाएंगे और राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री को पत्र भी लिखेंगे।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>