काफिर के इमामों को मौत के घाट उतारा जाना चाहिए : ISIS

Apr 15, 2016

अब तक अन्‍य धर्मों को निशाने पर लेने वाले आतंकी संगठन इस्‍लामिक स्‍टेट ने नया फरमान जारी करते हुए कहा कि हमारी विचारधारा को ना मानने वाले मुस्‍लिम धर्मगुरुओं की भी हत्‍या की जाए.

आईएसआईएस ने मुस्लिम धर्मगुरुओं के नामों की एक सूची जारी की है और उन्हें ‘काफिर का इमाम’ बताया है. इतना ही नहीं आईएस द्वारा अपने समर्थकों से कहा गया है कि ऐसे लोगों की हत्या कर दें जो उनसे असहमत हैं, फिर चाहें इस्लामी नेता ही क्यों न हों.

आईएस ने दाबिक पत्रिका में पश्चिम में काफिर के इमामों की हत्या नामक शीर्षक से एक लेख प्रकाशित किया गया है. इसमें कहा गया है कि पश्चिम में रहने वाले मुसलमान किस प्रकार यह दावा कर सकते हैं कि उन्होंने खुद को अल्लाह के लिए समर्पित कर दिया है.

संगठन ने अपनी पत्रिका के ताजा अंक में धर्मगुरुओं को निशाना बनाते हुए सूची जारी की है. इसमें कहा गया है कि काफिर के इमामों को मौत के घाट उतारा जाना चाहिए.

गौरतलब है कि पिछले साल सितंबर में करीब एक हजार भारतीय मुस्लिम धर्मगुरुओं ने आतंकी संगठन के खिलाफ फतवा जारी करते हुए उसे गैर इस्लामिक बताया था.

यह साफ नहीं है कि इस सूची में भारतीय धर्मगुरुओं के भी नाम हैं या नहीं. दाबिक के इस अंक में ब्रसेल्स हमलों के पीछे मौजूद लोगों के बारे में भी जानकारी दी गई है. तस्वीरों के साथ इन लोगों की आतंकी संगठन ने सराहना की है.

 

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>