BJP, सोनिया गांधी को इंदिरा गांधी ना बना दे: शिवसेना

May 10, 2016

मुंबई। शिवसेना ने अपने मुखपत्र में भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा है कि अगस्ता हेलिकॉप्टर मामले में भाजपा को पुरानी गलतियां नहीं दोहरानी चाहिए। शिवसेना ने कहा कि 70 के दशक में जनता पार्टी की सरकार ने जनादेश मिलने के बावजूद सारी ताकत इंदिरा गांधी के खिलाफ लगा दी थी, इसी का फायदा इंदिरा गांधी को मिला और कांग्रेस वापस सत्ता में आई।

भाजपा को दी सीख

शिवसेना के मुखपत्र में छपे लेख में कहा गया है, ‘हमें जनता पार्टी की सरकार के दौरान इंदिरा गांधी की याद आती है। यह जनता पार्टी ही थी जिसने अंतत: उन्हें वापस सत्ता में आने में मदद की थी। सरकार चलाने का जनादेश मिलने के बावजूद इसके नेता इंदिरा गांधी के पीछे पड़े थे, मानो उनका एकमात्र मकसद उन्हें परेशान करना था।’

आगे मुखपत्र में लिखा है कि उस समय की और आज की स्थिति में क्या अंतर है? आज भी देश की जनता ने भारतीय जनता पार्टी को अपनी समस्याएं हल करने के लिए चुना है। जबकि भाजपा कुछ लोगों को बार-बार निशाना बना रही है। यही सब अगस्ता वेस्टलैंड सौदे में भी किया जा रहा है।

शिवसेना ने कहा कि जहां सरकार का एकमात्र मकसद सोनिया गांधी और राहुल गांधी को जेल में डालने का लग रहा है, जबकि देश के असली मुद्दों यथा बेरोजगारी, भ्रष्टाचार, कालाधन जैसी समस्याएं अब तक अनसुलझी पड़ी हुई हैं।

कांग्रेस के लिए सहानुभूति का माहौल नहीं बनना चाहिए

भाजपा की मुख्य सहयोगी पार्टी के अनुसार अगर सोनिया गांधी और उनकी पार्टी वास्तव में घोटाले में शरीक है तो उनके खिलाफ कोई नरमी नहीं होनी चाहिए। परन्तु कांग्रेस को इस मुद्दे का लाभ भी नहीं देना चाहिए। शिवसेना ने कहा कि भाजपा को बिहार चुनावों से सीख लेनी चाहिए। वहां कड़ा प्रचार करने के बावजूद नीतीश कुमार और लालू यादव चुनाव जीते और कांग्रेस ने भी शानदार प्रदर्शन किया।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>