भारत का बड़ा मीट कारोबारी मोईन कुरैशी, मनी लॉन्ड्रिंग के केश में, इंदिरा गाँधी एअरपोर्ट से गिरफ्तार

Oct 16, 2016
भारत का बड़ा मीट कारोबारी मोईन कुरैशी, मनी लॉन्ड्रिंग के केश में, इंदिरा गाँधी एअरपोर्ट से गिरफ्तार

भारत के बड़े मीट कारोबारी मोईन कुरैशी को प्रवर्तन निदेशालय ने गिरफ्तार कर लिया है। मोईन कुरैशी पर हवाला कारोबार में शामिल होने का आरोप है।  प्रवर्तन निदेशालय ने मोईन कुरैशी के खिलाफ लुक आउट नोटिस भी जारी किया हुआ था। हालांकि मोईन कुरैशी ने अपनी गिरफ़्तारी का काफी विरोध किया लेकिन उनकी दलीलों को ख़ारिज करते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

जानकारी के अनुसार कुरैशी के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में भी मुकदमा दर्ज है। इससे पहले कोयला घोटाला मामले को लेकर आयकर विभाग भी कुरैशी के घर छापा मारा चुकी है।

इस दौरान सीबीआई निदेशक रंजीत सिंन्हा (उस समय से) के साथ कुरैशी के संबंध की खबरें भी सामने आई, हालांकि इसके खिलाफ कुछ सबूत नहीं मिल सका। लेकिन अब उन्हें हिरासत में ले लिया गया है और उनसे इस बात को लेकर पूछताछ की जा सकती है कि उनका दुबई जाने का मकसद क्या था।

मोईन कुरैशी के ऊपर 2015 में 200 करोड़ रूपए बाहर भेजने का आरोप है। प्रवर्तन निदेशालय इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रही है की कही मोईन हवाला के कारोबार से तो नही जुड़े। मोईन के बारे में प्रवर्तन निदेशालय को यह भी पता चला है की मोईन के सीबीआई के दो निदेशक के साथ भी ताल्लुकात रहे है. इसके अलावा मोईन के इंटरपोल के एक महासचिव से भी संबंधो का खुलासा हुआ है।

प्रवर्तन निदेशालयो के एक अधिकारी के अनुसार मोईन कुरैशी ने गिरफ़्तारी के समय काफी विरोध किया। मोईन ने अधिकारियो को बताया की उसे अदालत से विदेश जाने की अनुमति मिली हुई है। इसलिए आप मुझे दुबई जाने से नही रोक सकते. अपनी दलील को सही साबित करने के लिए , मोईन के वकीलों ने एअरपोर्ट पर ही , अदालत के आदेश की कोपी फैक्स की लेकिन ED अधिकारियो ने मोईन की एक न सुनी।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>