भारतीय गौरवान्वित ‘पूर्णा’ से महसूस करेंगे राहुल बोस

Jun 16, 2016

अभिनेता राहुल बोस एक लंबे अंतराल के बाद अपनी आने वाली फिल्म ‘पूर्णा’ से निर्देशन की दुनिया में लौट रहे हैं और उनका कहना है कि इससे देश के लोगों को खुशी मिलेगी और वे गौरवान्वित महसूस करेंगे.

तेलंगाना की एक आदिवासी लड़की मालावथ पूर्णा की एक सच्ची घटना पर ‘पूर्णा’ फिल्म आधारित है. 25 मई 2014 को माउंट एवरेस्ट फतह करके पूर्णा ने ऐसा करने वाली विश्व मे सबसे कम उम्र की लड़की होने का इतिहास रच दिया था.

सुबह छह बजे जब उसने भारतीय तिरंगा लहराया उस समय वह केवल 13 साल की थी.

अभिनेता की आखिरी निर्देशित फिल्म ‘एवरीबॉडी सेज आई एम फाइन’ 2001 में प्रदर्शित हुई थी. उनका कहना है कि उसने यह खास कहानी इसलिए चुनी क्योंकि यह प्रेरणादायी है.

फिल्म में पूर्णा के मार्गदर्शक की भूमिका में बोस खुद भी नजर आएंगे. इस फिल्म की मुख्य भूमिका पूर्णा की किरदार तेलंगाना की एक लड़की अदिति इनामदार पर्दे पर साकार करेगी.

राहुल बोस ने पर्दे पर पूर्णा की भूमिका के लिए कुछ आदिवासी लड़कियों सहित 109 लड़कियों का ऑडिशन लिया जिसमें आदिति का चयन किया गया है.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>