भारतीय अर्थव्यवस्था मंदी के दौर में भी तेज रफ्तार से बढ़ रही है: जेटली

May 28, 2016

केन्द्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली ने नरेन्द्र मोदी सरकार के पहले दो साल के कामकाज के गति की तुलना क्रिकेट में स्लाग ओवरों (अन्तिम ओवरों) में होने वाली तेज बैटिंग से की.

उन्होंने शुक्रवार को लखनऊ में कहा कि संप्रग राज में ”नीतिगत पंगुता” का शिकार रही भारतीय अर्थव्यवस्था अब दुनिया की सबसे तेजी से बढने वाली अर्थव्यवस्था बन गयी है.

जेटली ने मोदी सरकार के दो साल पूरे होने पर पार्टी की तरफ से आयोजित किए जा रहे ‘विकास पर्व सप्ताह’ के तहत आयोजित एक कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा ”पूर्ववर्ती सरकारें क्रिकेट के स्लाग ओवरों की तरह अपने अन्तिम के वर्षो में रफ्तार पकडती थीं. यह पहली सरकार है जो शुरू से ही परिश्रम करने वाली और जूझ कर काम करने वाली सरकार है.’

उन्होंने कहा कि ”नीतिगत पंगुता” का शिकार रही देश की अर्थ व्यवस्था दो वर्षो के भीतर दुनिया की सबसे तेज गति से विकसित होने वाली अर्थव्यवस्था बन गयी है. जहां दुनिया के तमाम देश आर्थिक मंदी का शिकार है भारत की अर्थव्यवस्था तेजी से बढ रही है.

जेटली ने मनोविनोद के अन्दाज में कहा ‘इस सरकार में मंत्री होना आसान काम नहीं हैं कारण कि इसमें ऐसे प्रधानमंत्री के साथ काम करना है जो 24 गुणा 7 (सप्ताह के सभी दिन 24 घण्टे) काम करता है.’

उन्होंने इसी क्रम में हंसते हुए कहा ‘राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष के पद पर काम करना (उनके लिए) बहुत आसान था, कारण कि कांग्रेस सरकार में रोज घोटाले होते थे और प्रतिपक्ष के पास मुद्दो की कमी नहीं रहती थी.’

वित्तमंत्री जेटली ने बडी संख्या में विदेशी दौरो के लिए विपक्षी दलों द्वारा प्रधानमंत्री मोदी पर किये जाने वाले तंज की ओर इशारा करते हुए कहा ”देश के विभिन्न देशों में प्रधानमंत्री मोदी के स्वागत में वैसी भीड होती है जैसे देश में. सिडनी में भी लखनऊ जैसी रैली होती है. पहली बार दुनिया में भर में रह रहे देश के लोगों को भारतीय होने पर गर्व होने लगा है.’

पूर्ववर्ती कांग्रेस नीत संप्रग सरकार पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को लोग बेचारा कहने लगे थे. वह पद पर तो थे मगर उसके पास अधिकार नहीं थे. अधिकार एक परिवार के सदस्यों के पास थे.

जेटली ने असम में भाजपा को मिली शानदार जीत और केरल, बंगाल आदि राज्यों में पार्टी के प्रदर्शन में दिखी बेहतरी का जिक्र करते हुए कांग्रेस समेत सभी विपक्षी दलों पर निशाना साधा और कहा ‘अब बहस यह है कि अगली बार भाजपा के मुकाबले कांग्रेस होगी या क्षेत्रीय दल. यही तय नहीं हो पा रहा है कि विपक्ष में मुख्य विपक्षी कौन हैं.’

उन्होंने कहा कि देश के 15 राज्यों में भाजपा और भाजपानीत राजग की सरकारें हैं जबकि कांगेस कर्नाटक और पांच पर्वतीय राज्यों में सिमट कर रह गयी है.

जेटली ने मोदी सरकार के कार्यक्रमों और उपलब्धियों की विस्तार से चर्चा की और कहा कि आज दुनिया यह जानकर हैरान है कि यह सरकार एक साल में 10 हजार किलोमीटर राजमार्ग बनाने का लक्ष्य लेकर चल रही है और बिजली इतनी है कि राज्य उसे खरीद नहीं पा रहे है.

उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को निष्ठा से काम करने की नसीहत देते हुए कहा कि यह एक एतिहासिक अवसर है और हमें यह साबित करके दिखाना है कि सरकार बिना भ्रष्टाचार के भी चलाई जा सकती है.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>