दक्षिण एशिया में भारत ने हमेशा प्रभुत्व बनाए रखने की कोशिश की: पाक

Jun 21, 2016

पाकिस्तान प्रधानमंत्री के विदेशी मामलों के सलाहकार सरताज अजीज ने दावा किया कि भारत ने हमेशा दक्षिण एशिया क्षेत्र पर अपना प्रभुत्व बरकरार रखने की कोशिश की जबकि पाकिस्तान ने प्रभावी रूप से अपने हितों की हिफाजत करते हुए इसे खारिज किया है.

अजीज ने पाकिस्तानी टेलीविजन चैनल समा टीवी के साथ साक्षात्कार में एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘पाकिस्तान ने इस (भारतीय) प्रभुत्व को खारिज किया और अपने हितों की और कश्मीर, परमाणु प्रतिरोधी क्षमता एवं पारंपरिक हथियार संतुलन पर रूख की प्रभावी तरह से रक्षा की.’’
उन्होंने कहा कि ‘‘पाकिस्तान की संप्रभुता और अहम हितों की रक्षा एक राष्ट्र के रूप में उसकी बड़ी उपलब्धि है.’’
अजीज ने अफगान शरणार्थी समस्या की चर्चा करते हुए कहा कि आवागमन पर रोक-टोक नहीं होने की वजह से यह पाकिस्तान के लिए सुरक्षा का एक मुद्दा बन गया है क्योंकि शरणार्थी शिविर ‘‘आतंकवादियों के लिए पनाहगाह’’ बन गए हैं.
उन्होंने कहा, ‘‘हमने फाटा (कबायली इलाकों) पर अपना नियंत्रण स्थापित कर लिया है लेकिन अगर अफगान सीमा विनियमन से मुक्त रहे तो हमारे कबायली इलाके सुरक्षित नहीं रह सकते.’’
उन्होंने अफगान शरणार्थियों की वापसी का आह्वान करते हुए कहा कि यह एक क्रमिक प्रक्रिया होगी और इस प्रक्रिया के लिए पाकिस्तान को एक कार्ययोजना की जरूरत होगी.
अजीज ने कहा कि पाकिस्तान ने अफगानिस्तान में रूसी हमले के दौरान जो नीतियां अपनाई थी, उसकी कीमत चुका रहा है. उस वक्त ‘‘नशीली दवाएं और बंदूक के साथ’’ पचास लाख शरणार्थी पाकिस्तान में आए थे.
उन्होंने दावा किया कि मौजूदा सरकार ने गैर-हस्तक्षेप की नीति पर चलने का फैसला किया है जिसका मतलब है कि वह किसी और की जंग नहीं लड़ेगा.
 अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>