हैदराबाद: गिरफ्तार लोगों को ISIS से मिल रहे थे दिशानिर्देश: NIA

Jul 01, 2016

राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने दावा किया है कि हैदराबाद में गिरफ्तार किए गए लोगों को आतंकवादी संगठन आईएसआईएस से दिशानिर्देश मिल रहे थे.

आईएस के साथ संलिप्तता वाले एक गुट से जुड़े होने के संदेह और बम हमले की साजिश रचने के आरोप में एनआईए द्वारा शहर से गिरफ्तार किए गए पांच लोगों को गुरूवार को एक स्थानीय अदालत में पेश किया गया जिसने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया.

आरोपियों को एनआईए ने भारी सुरक्षा घेरे में मेट्रोपॉलिटन सत्र न्यायाधीश की अदालत में पेश किया। न्यायाधीश ने उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया. हालांकि जांच एजेंसी ने और पूछताछ के लिए उनकी पुलिस हिरासत की मांग करते हुए एक याचिका दी थी.

एनआईए की पुलिस हिरासत की मांग से जुड़ी याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई की जा सकती है.

आरोपियों को बाद में चेरलापल्ली केंद्रीय कारागार भेज दिया गया. एनआईए ने यहां पुराने शहर के विभिन्न इलाकों में खोजबीन करने के बाद पांच युवकों को गुरूवार को गिरफ्तार किया था.

एजेंसी ने हैदराबाद पुलिस की मदद से शहर में 10 स्थानों पर खोजबीन करने के बाद कल मोहम्मद इब्राहिम यजदानी उर्फ इब्बू, हबीब मोहम्मद उर्फ सर, मोहम्मद इलयास यजदानी, अब्दुल्ला बिन अहमद अल अमूदी और मुजफ्फर हुसैन रिजवान को गिरफ्तार किया.
 

एनआईए के अनुसार प्रारंभिक जांच के दौरान पाया गया कि गिरोह आतंकी कृत्यों को अंजाम देने के लिए आईईडी तैयार कर रहा था और इसके लिए गिरोह को एक ऑनलाइन हैंडलर से दिशा निर्देश दिए जा रहे थे। ऐसा संदेह है कि हैंडलर इराक या सीरिया में था. एजेंसी ने कहा कि आगे जांच जारी है.

एनआईए ने पुख्ता जानकारी के आधार पर पहले एक मामला दर्ज किया था कि हैदराबाद के कुछ युवक और उनके साथी देश के विभिन्न हिस्सों में धार्मिक स्थलों, संवेदनशील सरकारी इमारतों समेत सार्वजनिक स्थानों पर आतंकी हमले करने के लिए हथियार और विस्फोटक सामग्री एकत्र करके भारत सरकार के खिलाफ युद्ध छेड़ने की साजिश रच रहे हैं.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>