हैदराबाद टेस्ट : पहली बार बांग्लादेश की मेजबानी करेगा भारत

Feb 08, 2017
हैदराबाद टेस्ट : पहली बार बांग्लादेश की मेजबानी करेगा भारत

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) का ‘फ्यूचर टूर प्रोग्राम’ अस्तित्व में आने के करीब 15 वर्ष बाद भारत पहली बार बांग्लादेश के साथ घरेलू धरती पर कोई अंतर्राष्ट्रीय द्विपक्षीय मैच खेलने जा रहा है। गुरुवार को राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में बांग्लादेश टेस्ट नंबर-1 भारत से भिड़ेगा।

बीते एक वर्ष से अविजित चल रही भारतीय टेस्ट टीम इस मैच में अपने मौजूदा फॉर्म को कायम रखते हुए विश्व क्रिकेट में अपने दबदबे को और मजबूत करना चाहेगी।

वहीं बांग्लादेश हाल ही में न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला गंवा कर आई है। लेकिन उससे पहले बांग्लादेश ने घरेलू धरती पर कई बड़ी टीमों के खिलाफ दमदार प्रदर्शन किया है। भारत की परिस्थितियां बांग्लादेश से ज्यादा अलग नहीं हैं और भारतीय टीम की ही तरह बांग्लादेश भी स्पिन के अनुकूल पिचों पर अच्छा खेलती है।

ऐसे में भारत के लिए यह मैच कहीं से आसान नहीं होने वाला। भारतीय कप्तान विराट कोहली भी बांग्लादेश को हल्के में लेने की गलती करने से बचेंगे।

भारत के दोनों सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल और मुरली विजय फिट हैं। टीम के मुख्य कोच अनिल कुंबले ने भी मंगलवार को लोकेश और विजय के साथ उतरने के संकेत दिए हैं। वैसे टीम में विकल्प के तौर पर अभिनव मुकुंद को भी शामिल किया गया है।

करुण नायर टीम में बने हुए हैं, लेकिन मैदान पर उनकी जगह अजिंक्य रहाणे को प्राथमिकता दी जा सकती है। हरफनमौला हार्दिक पांड्या भी हाल की श्रृंखलाओं में टेस्ट टीम का हिस्सा रहे, लेकिन इस बार लग रहा है उन्हें टेस्ट पदार्पण का मौका मिल जाएगा।

तीसरे और चौथे नंबर की जिम्मेदारी कोहली और चेतेश्वर पुजारा पर होगी। चोट से वापसी कर रहे विकेटकीपर-बल्लेबाज रिद्धिमान साहा फिर से अपनी जिम्मेदारी संभालेंगे।

गेंदबाजी का दारोमदार ईशांत शर्मा और उमेश यादव पर होगा, जबकि स्पिन की कमान टेस्ट के दोनों शीर्ष गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा संभालेंगे।

कोहली के पास पांचवें गेंदबाज के रूप में दो विकल्प हैं – पांड्या और कुलदीप यादव। हालांकि मैच से पहले कोहली और मुख्य कोच अनिल कुंबले के बयानों से संकेत लें तो पांड्या अंतिम एकादश में नजर आते हैं। हालांकि भारतीय स्पिन पिचों को देखते हुए जयंत यादव भी संभावितों में मजबूत नजर आते हैं।

बांग्लादेश को अपने नियमित सलामी बल्लेबाज इमरुल कायेस के चोटिल होने से जरूर झटका लगा है। ऐसे में तमीम इकबाल, कप्तान मुश्फिकुर रहीम और हरफनमौला खिलाड़ी शाकिब अल हसन के कंधों पर जिम्मेदारी बढ़ गई है।

मुस्ताफिजुर रहमान के न रहने से मेहमानों की गेंदबाजी भी कमजोर हुई है। शाकिब को इस विभाग में भी जिम्मेदारी लेनी पड़ेगी। भारत में स्पिन की अहमियत को देखकर मेहदी हसन मिराज का अंतिम एकादश में खेलना तय लग रहा है। शाकिब के बाद मिराज से टीम को बहुत उम्मीदें होंगी।

बांग्लादेश की कोशिश यहां बेहतरीन प्रदर्शन कर विश्व क्रिकेट में खुद को साबित करना होगा। मेहमान टीम की सबसे बड़ी कमजोरी अच्छी शुरुआत को सही अंजाम तक न पहुंचाना रही है। अगर वह अपनी इस कमजोरी से पार पा लेती है तो किसी भी टीम के लिए उसकी चुनौती मुश्किल होगी।

टीमें (संभावित) :

भारत :- विराट कोहली (कप्तान), मुरली विजय, लोकेश राहुल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, करुण नायर, रिद्धिमान साहा, रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, जयंत यादव, उमेश यादव, इशांत शर्मा, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव, अभिनव मुकुंद और हार्दिक पांड्या।

बांग्लादेश:- मुश्फिकुर रहमान (कप्तान एवं विकेटकीपर), तमीम इकबाल, सब्बीर रहमान, मोमिनुल हक, महमदुल्ला, शाकिब अल हसन, मेहदी हसन मिराज, ताइजुल इस्लाम, कमरुल इस्लाम रब्बी, सौम्य सरकार, तस्कीन अहमद, शुभाशीष रॉय, लिटन दास, शहीफुल इस्लाम।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>