पति को अपनी पत्नी की बात टालना पड़ी महंगी, रातभर सोना पड़ा बहार,’फ‍िर हुआ ऐसा जिसके बारे में सोचा भी नहीं होगा’

Jan 15, 2018
पति को अपनी पत्नी की बात टालना पड़ी महंगी, रातभर सोना पड़ा बहार,’फ‍िर हुआ ऐसा जिसके बारे में सोचा भी नहीं होगा’

यूपी की राजधानी लखनऊ में एक पति को अपनी पत्नी की बात टालना इतनी महंगी पढ़ जयेगी, उसने इस बारें में कभी सोचा भी नहीं होगा। पति की बात टालने पर पत्नी ने गुस्से में आकर कर ली आत्महत्या।

दरअसल हुआ ये कि लखनऊ में रहने वाले दीपक नाम के व्यक्ति से उसकी पत्नी ने शनिवार के दिन शॉपिंग कराने के लिए बोला, लेकिन उसने रविवार को शॉपिंग पर ले जाने के लिए बोला, उसने बताया कि उसकी पत्नी इस बात को लेकर इतना नराज हो गयी, जब मैं शाम को ऑफिस से घर गया तो उसने कमरे का दरवाजा बंद कर रखा था। मैंने काफी बार दरवाजा खोलने के लिए बोला लेकिन उसने दरवाजा नहीं खोला जिसके कारण मुझे बाहर लॉबी में सोना पड़ा। सुबह में जब मैंने दरबाजा थोड़ा तो उसे फंदे पर लटका हुआ पाया।

ये भी पढ़ें :-  शर्मनाक: चलती ट्रेन में सोती हुई अभिनेत्री के साथ हुई छेड़छाड़, की गंदी हरकत

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि ये घटना लखनऊ में पीजीआई स्थ‍ित वृंदावन योजना की है। दीपक द्विवेदी शिक्षा विभाग में सचिवालय की नौकरी करता है। केवी सिटी में वह अपने पिता राज किशोर माता मंजू और भाई विवेक के साथ रहता है। मिली जानकारी के अनुसार दीपक की शादी एक साल पहले इटावा की निवासी दीपिका (23) के साथ हुई थी। दीपक के अनुसार हमारी शादी के बाद से ही मेरी पत्नी दीपिका अक्सर छोटी छोटी बातों को लेकर नाराज़ हो जाया करती थी। जिसके चलते या तो वो खाना नहीं खाया करती थी या फिर कमरे का दरवाजा बंद कर लिया करती थी।

आगे दीपक ने इस बारें में बात करते हुए बताया कि अगले महीने दीपिका के ममेरे भाई की शादी होने वालीं है, जिसकी वजह से वो मुझसे शॉपिंग पर ले जाने के लिए बोल रही थी। शनिवार के दिन उसने मुझसे शॉपिंग पर चलने के लिए कहा, लेकिन ऑफिस में ज्यादा काम होने की वजह से मैंने उसको रविवार को शॉपिंग के लिए चलने को बोला, बस वो इसी बात को लेकर नाराज़ हो गयी। आगे दीपक ने बताते हुए कहा कि शनिवार को जब मैं देर शाम से घर पंहुचा, तो उसने दरवाजे का कमरा बन्द कर रखा था, बहुत बार दरवाजे को खोलने के लिए बोला तो उसने दरवाजा नहीं खोला। मैंने उसको फ़ोन किया उसने फ़ोन को भी काट दिया, जिसके कारण मैं बाहर लॉबी में ही सो गया। सुबह मैंने 6 बजे उठ कर अपनी पत्नी को आवाज़ दी तो अंदर से कोई आवाज़ नहीं आयी, फिर मैंने कमरे का दरवाजा तोड़कर देखा तो वह मुझे कमरे में पंखे के हुक से अपने डुपट्टे का फंदा डालकर लटकी हुई मिली।

ये भी पढ़ें :-  निमोनिया से पीड़ित 15 माह की बच्ची को तांत्रिक ने गर्म सलाख से दागा, हालत गंभीर

पुलिस अध‍िकारी सीओ कैंट तनू उपाध्याय ने इस घटना के बारे में बताया कि, पहले मृतका के मायके वालों ने शव के पोस्टमॉर्टम के लिए मना किया। लेकिन उन्हें काफी समझाने के बाद उन्होंने मृतका का पोस्टमॉर्टम कराया। बता दे कि मृतका के मायके की तरफ से ससुराल वालों के ऊपर उन्होंने कोई भी आरोप नहीं लगाया है। मृतक दीपिका का भाई सौरभ अपनी बहन की मौत से काफी ज्यादा सदमे में आ गया, और वो अपनी बहन के शव के पास सुबह से लेकर शाम तक बैठा रहा, और अपनी बहन के शव का पोस्टमॉर्टम न करवाने को लेकर जिद्द करता रहा।

ये भी पढ़ें :-  कासगंज हिंसा पर बोले रामगोपाल यादव-'हिंदू ही हिंदू को मार रहा लेकिन फँसाए जा रहे मुसलमान'
लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>