गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने आंतरिक सुरक्षा की स्थिति की समीक्षा की

Jul 15, 2016

जम्मू-कश्मीर में उथल-पुथल के मद्देनजर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को देश में आंतरिक सुरक्षा की स्थिति की समीक्षा की.

कश्मीर में हुए हिंसक विरोध प्रदर्शनों में पिछले एक हफ्ते में कम से कम 36 लोग मारे जा चुके हैं.
आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि करीब एक घंटे चली बैठक के दौरान शीर्ष सुरक्षा अधिकारियों ने देश, खासकर कश्मीर घाटी के मौजूदा हालात से गृह मंत्री को अवगत कराया.
गौरतलब है कि सुरक्षा बलों से हुई मुठभेड़ में हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकवादी बुरहान वानी की मौत के बाद कश्मीर घाटी में विरोध प्रदर्शनों का दौर जारी है.
गृह मंत्री को बताया गया कि केंद्र एवं राज्य सरकारों की ओर से उठाए गए कई कदमों के कारण जम्मू-कश्मीर में अब हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं.
सूत्रों के मुताबिक, राजनाथ ने निर्देश दिए कि अभी चल रही अमरनाथ यात्रा के यात्रियों की उचित सुरक्षा सुनिश्चित की जाए.
केरल से 20 युवाओं के लापता होने के मुद्दे पर भी बैठक में चर्चा हुई. खबरों में कहा गया है कि कम से कम 11 युवा सीरिया पहुंच कर खूंखार आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट में शामिल हो गए हैं.
फ्रांस के नीस शहर में गुरुवार शाम हुए आतंकवादी हमले पर भी बैठक में चर्चा की गई. नीस स्थित फ्रेंच रिवियेरा रिजॉर्ट में आतिशबाजी देख रही भीड़ के बीच हमलावर ने अपना ट्रक घुसा दिया था, जिसके कारण कम से कम 80 लोग मारे गए और दर्जनों घायल हो गए. मारे गए लोगों में बच्चे भी शामिल थे.
एक सूत्र ने कहा, ‘‘किसी अकेले आतंकवादी की ओर से भारत में कहीं भी ऐसा कदम उठाने की आशंका खत्म करने के लिए कार्रवाई शुरू की जा चुकी है.’’
इस बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल, केंद्रीय गृह सचिव राजीव महर्षि और अन्य सुरक्षा अधिकारी शामिल हुए.
 अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>