जो अपनी बीवी के अच्छे दिन नहीं ला पाए, वे जनता के अच्छे दिन क्या लाएंगे: नसीमुद्दीन सिद्दीकी

Sep 29, 2016
जो अपनी बीवी के अच्छे दिन नहीं ला पाए, वे जनता के अच्छे दिन क्या लाएंगे: नसीमुद्दीन सिद्दीकी

BSP के राष्ट्रीय महासचिव नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा मोदी जी अगर गुजरात चले गाए तो अच्छे दिन अपने आप आ जाएंगे। नसीमुद्दीन BSP  की ओर से आगरा के सूरसदन में आयोजित उत्तर और दक्षिण विधानसभा क्षेत्रों के कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होने पीएम मोदी के अच्छे दिन को लेकर उनपर कड़ा हमला बोला।

मुसलिम मतदाताओं के लिए बोलते हुए कहा कि मुस्लिमों का सम्मान बसपा में ही है। अन्य पार्टियां मुस्लिम समाज को तोड़ने में लगी हैं। इस दौरान नसीमुद्दीन सिद्दीकी के बेटे अफजल सिद्दीकी ने भी विपक्षी दलों पर सियासी फायदे के लिए मुस्लिम समाज को बहकाने का आरोप लगाया। नसीद्दीन सिद्दकी ने मोदी सरकार पर हमला कर कहा, कहां गए अच्छे दिन।

ये भी पढ़ें :-  मोदी के 'कब्रिस्तान और श्मशान भूमि' वाले बयान पर शिकायत करने से पीछे हटी कांग्रेस

अच्छे दिनों का नारा देने वाले मोदी जो अपनी बीवी के अच्छे दिन नहीं ला पाए, वे जनता के अच्छे दिन क्या लाएंगे। आज देश में मंहगाई की मार पड़ रही है उन्होंने मजाकिया लहजे में कहा कि मोदी जी गुजरात वापस चले जाओ, अच्छे दिन अपने आप आ जाएंगे। उन्होंने सत्तारूढ़ दल समाजवादी पार्टी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि सपा सरकार में अपराध चरम पर है। 2012 के सपा सरकार के घोषणा पत्र का हवाला देते हुए बोले कि इसमें सपा सुप्रीमो ने लिखा था कि मुस्लिमों को उनकी आबादी के हिसाब से रिजर्वेशन देंगे।

मुसलमानो को रिजर्वेशन देना तो दूर उस मुद्दे पर बात भी नहीं करते। नसीमुद्दीन सिद्दीकी बोले कि पहली बार ही जब मायावती जी मुख्यमंत्री बनीं थी, तो मुस्लिम समाज के लिए अल्पसंख्यक आयोग का गठन किया था। बाद में मुस्लिमों के उत्थान के लिए अल्पसंख्य निदेशालय भी बनाया। बसपा सरकार में आज तक दंगे नहीं हुए। मोदी सरकार और सपा मिलकर देंगे करती है।

ये भी पढ़ें :-  जाट समुदाय आज मनाएगा 'काला दिवस'

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected