हिंदू आरोपियों के खिलाफ, बम धमाकों में सख्त नहीं है PM मोदी: ओवैसी

Jun 23, 2016

हैदराबाद। एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने आज आरोप लगाया कि नरेन्द्र मोदी सरकार, बम विस्फोट के मामलों में उन आरोपियों के खिलाफ ‘सख्त नहीं’ है जो हिंदू हैं।

मोदी सरकार के दो साल के कामकाज की चर्चा करते हुए ओवैसी ने कहा, ‘‘ जब बम विस्फोटों का मुद्दा आता है चाहे वह मालेगांव हो, हैदराबाद मक्का मस्जिद हो या अजमेर हो, वे ( भाजपा नीत राजग सरकार) उन आरोपियों के खिलाफ महज इसलिए सख्त नहीं है क्योंकि वे बहुसंख्यक समुदाय से आते हैं। हैदराबाद से लोकसभा सांसद ने यह भी कहा, ‘‘ उन्होंने (भाजपा) हर साल युवाओं को 1.20 करोड रोजगार देने का वादा किया।

बडी मुश्किल से पांच लाख रोजगार का सृजन हुआ। उन्होंने वादा किया कि कीमतें नीचे आएंगी, जबकि कीमतें आसमान चढ रही हैं। जब भाजपा सत्ता में आई थी, उस समय कच्चे तेल की कीमत 85-90 डालर थी और अब इसके घटकर 35 डालर प्रति बैरल पर आने के बावजूद पेट्रोल व डीजल की खुदरा कीमतें नीचे नहीं आई हैं। सरकार ने आठ बार से अधिक उत्पाद शुल्क बढा दिए हैं।

ओवैसी ने पीटीआई भाषा को बताया, ‘‘ आर्थिक मोर्चे पर कोई नीति नहीं है। मुद्रास्फीति पर अंकुश लगाने के लिए कोई नीति नहीं है। भाजपा अपने इन वादों को पूरा करने में विफल रही है। क्या भारत एक ‘‘कांग्रेस-मुक्त भारत’ की दिशा में बढ रहा है, इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘इस पर निर्णय करना कांग्रेस पर निर्भर करता है क्योंकि वे भाजपा से निपटना चाहते हैं, लेकिन उन्होंने महाराष्ट्र विधानसभा में भारत माता की जय नारा नहीं लगाने के लिए एआईएमआईएम विधायक वारिस पठान को निलंबित करने का प्रस्ताव आगे बढाया। यह कांग्रेस पार्टी ही थी जिसने इस प्रस्ताव को आगे बढाया। इसलिए, इस पर निर्णय करना उन पर निर्भर करता है। यही वजह है कि लोग समझ नहीं पा रहे कि वे क्या करें।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>