धौनी के इन रिकॉर्ड्स को तोड़ पाना किसी के लिए आसान नहीं होगा

Jul 07, 2016
धौनी ने अपने क्रिकेट करियर में कुछ ऐसे रिकॉर्ड्स कायम किए हैं जिन्हें तोड़ पाना शायद ही किसी के लिए मुमकिन हो पाएगा।

नई दिल्ली। भारतीय वनडे और टी20 टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने अपने 12 वर्ष के क्रिकेट करियर में एक कप्तान, बल्लेबाज और विकेट कीपर के तौर पर कई रिकॉर्ड्स बनाए। इनमें से कुछ रिकॉर्ड्स ऐसे हैं जिन्हें तोड़ पाना आसान नहीं है। एक नजर डालते हैं उनके इन रिकॉर्ड्स पर।

1. धौनी दुनिया के पहले नॉन-ऑस्ट्रेलियाई कप्तान भी बने जिसकी कप्तानी में किसी टीम ने 100 से ज्यादा वनडे मैच जीते हैं। टीम इंडिया को 100 से ज्यादा वनडे मैचों में जीत दिलाने वाले धौनी एकमात्र भारतीय कप्तान हैं। रिकी पोंटिंग और एलन बॉर्डर ही इस मामले में उनसे आगे हैं।

2. अपनी टीम की तीनों फॉरमैट में 50 से ज्यादा मैचों में कप्तानी करने वाले धौनी दुनिया के इकलौते कप्तान हैं। भारत के लिए उन्होंने 60 टेस्ट, 194 वनडे और 70 टी-20 मैचों में उन्होंने कप्तानी की है।

3. धौनी टीम इंडिया के सबसे सफल कप्तान भी रहे। उन्होंने टीम इंडिया को 24 टेस्ट मैचों में जीत दिलाई। सौरव गांगुली की कप्तानी में टीम इंडिया ने 21 टेस्ट मैच जीते थे।

4. धौनी 324 इंटरनेशनल मैचों में टीम इंडिया की अगुवाई कर चुके हैं। ऐसा करने वाले वो पहले भारतीय हैं। इसके साथ ही उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पॉन्टिंग के सबसे ज्यादा इंटरनेशनल मैचों में कप्तानी के रिकॉर्ड की बराबरी भी कर ली है। जल्द ही धौनी सबसे ज्यादा इंटरनेशनल मैचों में कप्तानी करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम कर लेंगे।

5. 2009 में न्यूजीलैंड के वेलिंगटन में खेले गए टेस्ट मैच में धौनी ने मेजबान टीम के खिलाफ एक पारी में छह कैच लपके थे। एक पारी में यह किसी भारतीय द्वारा लपके सबसे ज्यादा कैच हैं। धौनी का यह रिकॉर्ड तोड़ पाना आसान नहीं होगा।

6. वनडे क्रिकेट में नंबर 7 पर बल्लेबाजी करते हुए महज 12 बल्लेबाज ही सेंचुरी बना पाए हैं। धौनी इन 12 बल्लेबाजों में इकलौते ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने दो बार यह कारनामा किया है। 2007 में एशिया इलेवन की तरफ से उन्होंने अफ्रीका इलेवन के खिलाफ नॉटआउट 139 रनों की पारी खेली थी जबकि 2012 में पाकिस्तान के खिलाफ चेन्नई में उन्होंने नॉटआउट 113 रन बनाए थे।

7. धौनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने टेस्ट क्रिकेट में अपना सर्वश्रेष्ठ स्कोर (729-9 पर पारी घोषित) बनाया था। यह स्कोर श्रीलंका के खिलाफ बनाया गया था। इस सीरीज को 2-0 से जीतकर टीम इंडिया टेस्ट क्रिकेट इतिहास में पहली बार नंबर-1 टीम बनी थी।

8. धौनी इकलौते ऐसे कप्तान हैं जिसकी कप्तानी में टीम इंडिया ने तीन आईसीसी ट्रॉफी जीती हैं। 2007 टी-20 वर्ल्ड कप, 2011 वर्ल्ड कप और 2013 चैम्पियंस ट्रॉफी। धौनी के अलावा दुनिया में कोई ऐसा कप्तान नहीं है जिसकी कप्तानी में टीम ने तीनों आईसीसी ट्रॉफी जीती हों।

9. धौनी दुनिया के इकलौते ऐसे क्रिकेटर हैं जिन्हें आइसीसी वर्ल्ड वनडे इलेवन में लगातार सात साल तक चुना गया हो। 2008, 2009, 2010, 2011, 2012, 2013, 2014 में धौनी इस टीम का हिस्सा रहे। दुनिया का और कोई भी क्रिकेटर लगातार सात बार इस टीम का हिस्सा नहीं बना है।

10. धौनी के नाम पर इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे ज्यादा स्टम्पिंग का वर्ल्ड रिकॉर्ड है। धौनी ने इंटरनेशनल क्रिकेट में 148 स्टम्पिंग की हैं। जबकि श्रीलंकाई विकेटकीपर बल्लेबाज कुमार संगकारा ने 139 स्टम्पिंग की हैं।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>