अगर अश्विन और साहा ना होते तो ये हाल होता भारत का

Aug 11, 2016
वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में अश्विन और साहा को छोड़ दें तो बाकी के बल्लेबाजों ने बेहद खराब प्रदर्शन किया।

ग्रॉस आइलेट। वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में अश्विन और साहा को छोड़ दें तो बाकी के बल्लेबाजों ने बेहद खराब प्रदर्शन किया। भारत ने पहली पारी में इंडीज के खिलाफ 353 रन बनाए जिसमें से अश्विन ने 118 जबकि साहा ने 104 रन बनाए। टीम के अन्य बल्लेबाजों ने सिर्फ 131 रन बनाए जिसमें से लोकेश राहुल ने 50 रन बनाए।

आखिरी में 14 रन पर गिरे चार विकेट

पहली पारी के आखिरी क्षणों में भारतीय बल्लेबाजों ने काफी खराब बल्लेबाजी की। टीम के आखिरी चार बल्लेबाजों ने सिर्फ 14 रन जोड़े और भारत के आखिरी 5 विकेट 48 गेंदों में ही गिर गए। पहली पारी के शुरुआत में भी भारतीय बल्लेबाजों ने कुछ खास नहीं किया था। टीम के तीन विकेट 77 रन के अंदर ही गिर गए थे। ऐसे में अगर अश्विन और साहा ने शतक नहीं लगाया होता और उनके बीच 213 रनों की साझेदारी नहीं हुई होती तो पूरी टीम शायद 150 रन भी नहीं बना पाती।

टीम के सात बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू पाए

भारतीय टीम के सात बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू पाए। इनमें से भी आखिर के तीन बल्लेबाज तो अपना खाता भी नहीं खोल पाए थे। भारतीय बल्लेबाज शिखर धवन (1), विराट कोहली (3), रोहित शर्मा (9), रवींद्र जडेजा (6), भुवनेश्वर कुमार (0), मो. शमी (0) और ईशांत शर्मा ने (0) रन की पारी खेली।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>