गुजरात पुलिस का दावा- गुजरात दंगों में मिले 10 करोड़ के चंदे में से तीस्ता सीतलवाड़ ने 4 करोड़ का किया गबन

Dec 03, 2016
गुजरात पुलिस का दावा- गुजरात दंगों में मिले 10 करोड़ के चंदे में से तीस्ता सीतलवाड़ ने 4 करोड़ का किया गबन

गुजरात पुलिस के असिस्टेंट कमिश्नर राहुल बी पटेल द्वारा सुप्रीम कोर्ट में दाखिल किये गये हलफनामे में कहा कि सीतलवाड़, उनके पति जावेद आनंद ने 3.85 करोड़ रुपये का निजी इस्तेमाल किया है। पुलिस के अनुसार साल 2002 में हुए गुजरात दंगों के पीड़ित लोगों की मदद के लिए तीस्ता के एनजीओ को 9.75 करोड़ रुपये का दान मिला था, गुलबर्ग सोसाइ‍टी के कुछ दंगा पीड़‍ितों के बाद शुरू हुई जांच के बाद उनके ट्रस्टों- सेंटर फॉर जस्ट‍िस ऐंड पीस (सीजेपी) तथा सबरंग- ने जरूरी दस्तावेज मुहैया नहीं कराए। पुलिस ने अपने हलफनामे में कहा कि सीजेपी, सबरंग, तीस्ता और आनंद के 2007 से 2014 तक बैंक खातों की जांच की गई।  इस दंपती के यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया, मुंबई के खातों में 31 दिसंबर, 2002 तक कोई रकम नहीं थी, लेकिन जनवरी 2003 से दिसंबर 2013 के बीच आनंद ने इसमें 96.43 लाख और सीतलवाड़ ने 1.53 करोड़ रुपये डाले। इसके अलावा मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने कहा कि फरवरी 2011 से जुलाई 2012 के बीच मिले अनुदान से भी इस दंपती ने 1.40 करोड़ रुपये निजी जरूरतों के लिए खर्च किए।  पुलिस के अनुसार सीतलवाड़ का यह दावा भी झूठा साबित हुआ है कि दंगों के ज्यादातर मुकदमे मुफ्त में लड़े गए हैं, दस्तावेजों से यह खुलासा हुआ है कि कई वकीलों को फीस के रूप में कुल करीब 71 लाख रुपये का भुगतान किया गया है।

ये भी पढ़ें :-  मप्र : भूमिहीनों के मामले में शिवराज को सुननी पड़ी खरी-खरी
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected