देश में गिरते जन्म दर से सरकार चिंतित, किया ज़्यादा बच्चे पैदा करने का एलान

Aug 29, 2016
देश में गिरते जन्म दर से सरकार चिंतित, किया ज़्यादा बच्चे पैदा करने का एलान
दक्षिण कोरिया की सरकार ने लोगों को ज़्यादा बच्चे पैदा करने के लिए प्रोत्साहित करने के कई उपायों का एलान किया है। देश में गिरते जन्म दर से सरकार चिंतित है।
कोरियन हेराल्ड अख़बार के मुताबिक़ प्रजनन संबंधी समस्या के इलाज के लिए सरकार आर्थिक मदद करेगी.
सरकारी मदद सितंबर के महीने से मिलना शुरू होगी और इसके दायरे में सभी आय वर्ग के लोग आएंगे। अब तक सरकारी मदद केवल कम आय वाले दम्पति तक ही सीमित थी।
लेकिन इस बदलाव के बाद अब इलाज के लिए हर कोई कम से कम क़रीब 60 हज़ार रुपये पाने का हक़दार होगा.
1960 के दशक के बाद से दक्षिण कोरिया में जन्म दर में तेज़ी से गिरवाट दर्ज की गई है।  हाल के वर्षों में सरकार ने करोड़ों डॉलर ख़र्च किए हैं लेकिन इसके बावजूद कोई ख़ास फ़र्क नहीं पड़ा है।
बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार स्वास्थ्य मंत्री जंग चिन यू का कहना है कि जन्म दर में गिरावट को रोकने के लिए हर मुमकिन कोशिश की जानी चाहिए. इसके अलावा प्रजनन संबंधी उपचार करा रहे लोगों को अगले साल जुलाई से तीन दिन की अवैतनिक छुट्टी की गारंटी दी गई है.
दूसरा बच्चे के जन्म पर पिताओं को पितृत्व अवकाश भुगतान बढ़ाने का भी एलान किया गया है. अख़बार के मुताबिक़ तीन या ज़्यादा बच्चों वाले घरों को सार्वजनिक शिशु देखभाल की सुविधाओं में प्राथमिकता दी जाएगी.
कोरिया टाइम्स के मुताबिक़ इस साल के पहले पांच महीनों में पिछले साल के इन्हीं महीनों की तुलना में जन्म दर 5.3 फ़ीसदी की कमी आई है। वहीं आलोचकों का कहना है कि समस्या पैसों की नहीं बल्कि दक्षिण कोरिया की कॉर्पोरेट संस्कृति की है, जिसमें कर्मचारियों से बहुत ज़्यादा घंटे काम करने की उम्मीद की जाती इस वजह से लोगों को लगता है कि वे बच्चों की देखभाल के लिए समय नहीं निकाल पाएंगे
अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
ये भी पढ़ें :-  न चव्वन्नी न अठन्नी, अब सचमुच आपको लखपति बना देगा ये पांच का सिक्का- जानिए कैसे
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected