सरकार ने कड़ा रुख अख्तियारा- सहारनपुर हिंसा में अब तक 25 गिरफ्तार

May 24, 2017
सरकार ने कड़ा रुख अख्तियारा- सहारनपुर हिंसा में अब तक 25 गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश सरकार ने सहारनपुर में हुई हिंसक घटनाओं पर कड़ा रुख अख्तियार किया है। सहारनपुर में हुई हिंसा में अब तक 25 उपद्रवियों को गिरफ्तार किया गया है। स्थिति को समान्य करने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गयी है। यह जानकारी पुलिस महानिरीक्षक विजय सिंह मीणा ने दी। पुलिस महानिरीक्षक (लोक शिकायत) विजय सिंह मीणा ने कहा कि सहारनपुर हिंसा मामले में अब तक 25 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि बीते दिन की सहारनपुर हिंसा में एक व्यक्ति की मौत हुई है।

उन्होंने बताया कि जिले में स्थिति नियंत्रण में है, 10 कम्पनियां तैनात की गई हैं। स्थिति की समीक्षा के लिए चार वरिष्ठ अधिकारी भी भेजे गए हैं। स्थिति सामान्य होने तक अधिकारी वहीं रहकर उठाए जा रहे कदमों पर नजर रखेंगे।

सहारनपुर के एसएसपी को हटाये जाने के सवाल पर मीणा ने सिर्फ इतना कहा कि उनके पास इसकी कोई जानकारी नहीं है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को नाराजगी जाहिर करते हुए प्रदेश के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को फटकार लगाई।

शासन से जुड़े सूत्रों ने बताया कि सहारनपुर हिंसा को लेकर जिलाधिकारी एन. पी. सिंह व एसएसपी सुभाष दुबे के खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है।

सूत्रों के मुताबिक एसएसपी सुभाष दुबे को हटाकर उनकी जिम्मेदारी बबलू कुमार को दी जा सकती है। एन पी सिंह की जगह प्रमोद कुमार पांडेय को सहारनपुर का नया जिलाधिकारी बनाया जा सकता है। अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि नही हुई है।

इससे पूर्व गृह सचिव मणि प्रसाद मिश्र ने आईएएनएस को बताया कि इलाके में पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात की गई है। उन्होंने कहा, ” स्थिति नियंत्रण में है और हम यहां की हर स्थिति पर निगरानी रखे हुए हैं और हालात समान्य होने तक अधिकारियों को कैंप करने के लिए कहा गया है।”

मुख्यमंत्री ने चार वरिष्ठ अधिकारियों के दल को सहारनपुर भेजा है। इस टीम में गृह सचिव मणि प्रसाद मिश्रा, एडीजी काूनन एवं व्यवस्था आदित्य मिश्रा, आईजी एसटीएफ अमिताभ यश और डीजी सुरक्षा विजय भूषण शामिल हैं।

मायावती मंगलवार को सहारनपुर के शब्बीरपुर में दलितों के घर पहुंची थी। पांच मई को हुई जातीय हिंसा में यहां के कई दलितों का घर जला दिए जाने के आरोप लगे थे। मायावती यहां दलितों से मिलकर जैसे ही वापस लौटीं देर रात हिंसा फिर भड़क उठी थी और इसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई थी।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>