उपहार अग्निकांड: 19 साल बाद भी इंसाफ की बाट जोह रहे हैं हम

Jun 13, 2016

दक्षिणी दिल्ली के उपहार सिनेमा अग्निकांड के प्रभावित परिवारों का कहना है कि इस घटना के 19 साल बाद भी वे इंसाफ की बाट जोह रहे हैं.

इस घटना में 59 लोगों की मौत हो गयी थी.

दक्षिण दिल्ली के ग्रीन पार्क इलाके में 13 जून, 1997 को उपहार सिनेमा में ‘बोर्डर’ फिल्म के दौरान भयंकर आग लग गयी थी. इस घटना में 59 लोग दम घुटने से 59 लोगों की मौत हो गयी थी जबकि आग और भगदड़ से 100 से अधिक लोग घायल हो गए थे.

एसोसिएशन ऑफ विक्टिम ऑफ उपहार ट्रेजेडी (एवीयूटी) के अध्यक्ष नीलम कृष्णमूर्ति ने कहा, ‘‘हम 19 साल से मामले के किसी प्रकार बंद होने का इंतजार कर रहे हैं लेकिन इंसाफ अब भी दूर है.’’

ये भी पढ़ें :-  मायावती ने कहा, भाजपा मतलब भारतीय जुमला पार्टी

एक निचली अदालत ने वर्ष 2007 में उपहार के मालिकों- असंल बंधुओं को दो साल के सश्रम कारावास की सजा सुनायी थी लेकिन एक साल बाद दिल्ली उच्च न्यायालय ने सजा घटाकर एक साल कर दी.

उच्चतम न्यायालय ने वर्ष 2005 में उनकी दोषसिद्धि पर मुहर लगायी लेकिन उनकी उम्र और सलाखों के पीछे उनके द्वारा बिताए गए समय को ध्यान में रखते हुए उसने उन्हें वापस जेल में नहीं भेजने का फैसला किया और दोनों को कैद के स्थान पर 30-30 करोड़ रूपए देने को कहा.

कृष्णमूर्ति ने कहा, ‘‘हम उच्चतम न्यायालय द्वारा थियेटर के मालिकों सुशील और गोपाल अंसल को 60 करोड़ रूपए के जुर्माने के साथ बरी करने के फैसले से भौंचक्के रहे गए. अब हम अपनी समीक्षा याचिका पर सुनवाई का इंतजार कर रहे हैं.’’

ये भी पढ़ें :-  मुस्लिम वोट काटने के लिए अमित शाह और ओवैसी में हुई 400 करोड़ रु की डील- दिग्विजय सिंह

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected