पंजाब की जेलों में हर 4 दिनों में हो रही, ड्रग्स के कारण 1 आदमी की मौत

Jun 10, 2016

पंजाब में ड्रग्स की बढ़ रही मार उस हद तक पहुंच गई है कि नशे की लत की वजह से हर 4 दिन में एक आदमी की हवालात या जेल में मौत हो जाती है जिसमें महिलाएं भी शामिल हैं। यह चौंकाने वाला खुलासा एक आरटीआई के जरिए हुआ है। इस आरटीआई के तहत पुलिस और जेल रिकॉर्ड की तफ्तीश की गई तो ड्रग्स से जुड़ी इस भयावह घटना की तस्वीर सामने आई जिसमें पता चला कि हर रोज करीब 25 लोगों को ड्रग्स लेने के आरोपों में गिरफ्तार किया जाता है, जिसकी वजह से पंजाब की जेलों में लगातार ऐसे लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है।

नशे की लत से ऐसे लोगों में शारीरिक और मानसिक बीमारियों से जूझ रहे हैं जिससे निपटने और उनका इलाज करने के लिए जेलों में मूलभूत सुविधाएं भी मौजूद नहीं है। इसके वजह से जेलों में बंद कैदियों की हालात दिनों दिन खराब होती जाती है और उनकी मौत भी हो जाती है। जेलों में कैदियों की मौत का यह आंकड़ा काफी हैरान करने वाला है। आंकड़ों के मुताबिक दो साल के अंदर नार्कोटिस्क ड्रग्स एंड साइकोट्रॉपिक सबस्टेंस (एनडीपीएस) एक्ट के तहत 174 लोगों को नामजद किया गया जिसमें से साल 2014 में 88 और 2015 में 86 लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए। इस साल 30 अप्रैल तक के आंकड़ों की पड़ताल करने पर इस बात का भी खुलासा हुआ कि इस साल ऐसे आंकड़ों में 40 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

पंजाब के पूर्व आईजी (जेल) शशि कांत का कहना है कि ऐसे लोगों को जेल में डालने की बजाय नशामुक्ति केंद्रों में ले जाना चाहिए जिससे की उनकी लत छुड़ाई जा सके। उन्होंने बताया, ‘नशे की लत से जूझ रहे लोग शारीरिक या मानसिक बीमारियों से शिकार हो जाते हैं। अगर ऐसे लोगों को जेल में डाल दिया जाता है तो उनकी जिंदगी बर्बाद हो जाती है। ऐसे नशेड़ियों को नशा मुक्ति केंद्रों में भेजा जाना चाहिए न कि जेल में।’

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>