रवि शास्त्री को कोच बनाए जाने की खबर भ्रमवश आई : गांगुली

Jul 11, 2017
रवि शास्त्री को कोच बनाए जाने की खबर भ्रमवश आई : गांगुली

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) के सदस्य सौरभ गांगुली ने मंगलवार को कहा कि मीडिया में प्रसारित रवि शास्त्री को भारतीय टीम का मुख्य कोच बनाए जाने से संबंधित खबर ‘भ्रम’ का परिणाम थी और अब तक कोच पद पर अंतिम फैसला नहीं हो सका है। गांगुली ने यहां नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पत्रकारों से कहा, “यह भ्रमवश हुआ। अब तक अंतिम फैसला नहीं हुआ है।”

गांगुली से जब इस संबंध में सोमवार को कोहली से संपर्क करने वाले बयान के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, “जो कुछ मैंने कहा था, अभी भी वही स्थिति है, नया कुछ नहीं हुआ है।”

सीएसी नया कोच नियुक्त करने से पहले कोहली से संपर्क करना चाहता था और इसीलिए सोमवार को कोच की घोषणा टाल दी गई, लेकिन मंगलवार को सर्वोच्च न्यायालय द्वारा गठित प्रशासकों की समिति (सीओए) ने सीएसी को आज ही (मंगलवार) कोच की नियुक्ति पर अंतिम फैसला लेने का आदेश दिया।

ये भी पढ़ें :-  सचिन और धोनी के बाद अब महिला तेज गेंदबाज झूलन गोस्‍वामी के जीवन पर भी बनेगी फिल्‍म

कोच को लेकर चल रही अटकलों के बीच नाटकीय घटनाक्रम में मंगलवार को बीसीसीआई ने हालांकि रवि शास्त्री के मुख्य कोच बनने की खबरों को न सिरे से खारिज किया है और न ही इस बात की पुष्टि की है।

मीडिया के एक बड़े हिस्से में शास्त्री को मुख्य कोच बनाए जाने के खबर पर स्पष्टीकरण देते हुए बीसीसीआई ने कहा कि क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) अभी इस मसले पर मंथन कर रही है और कोच पर अंतिम फैसला जल्द ही लिया जाएगा।

बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने यहां संवाददाता सम्मेलन में शास्त्री के कोच बनाए जाने की खबरों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, “कोच पर अभी कोई अंतिम फैसला नहीं लिया जा सका है। सीएसी के तीन सदस्य इस पर अभी चर्चा कर रहे हैं, आपस में एक-दूसरे से बात कर रहे हैं और कुछ देर बाद इस पर अंतिम फैसला आ सकता है।”

ये भी पढ़ें :-  शर्मनाक व्यवहार: पाक को धूल चटाने वाली क्रिकेटर एकता बिष्ट को मंच से धक्के मारकर उतारा गया

2014-2016 तक टीम के निदेशक रह चुके शास्त्री पिछले साल भी कोच पद की दौड़ में थे, लेकिन अंतत: पूर्व कप्तान और दिग्गज स्पिन गेंदबाज अनिल कुंबले को मुख्य कोच नियुक्त किया गया था।

विराट कोहली से विवाद के बाद कुंबले ने चैम्पियंस ट्रॉफी के ठीक बाद पद से इस्तीफा दे दिया।

शास्त्री ने शुरू में कोच पद के लिए आवेदन नहीं दिया था, लेकिन बीसीसीआई द्वारा कोच के आवेदन की अंतिम तिथि बढ़ाकर नौ जुलाई करने के बाद उन्होंने आवेदन दिया।

इससे पहले, सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण वाली सीएसी ने सोमवार को पांच उम्मीदवारों के इंटरव्यू लिए थे, लेकिन अपना फैसला कप्तान विराट कोहली से चर्चा तक रोक लिया था।

ये भी पढ़ें :-  कोच नहीं बन पाने पर छलका सहवाग का दर्द- बोले 'सेटिंग नहीं थी इसलिए नहीं बन पाया'

सोमवार को सीएसी ने शास्त्री, वीरेंद्र सहवाग, लालचंद राजपूत, रिचर्ड पायबस और टॉम मूडी के इंटरव्यू लिए थे। लेकिन वह किसी अंतिम फैसले पर नहीं पहुंची थी। उसका कहना था कि जब कोहली स्वदेश वापस आ जाएंगे तब उनसे तथा और कुछ संबंधित लोगों से चर्चा करने के बाद कोच के नाम का ऐलान किया जाएगा।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>