गंगा आपके लिए आस्था है पर मेरे लिए यह जिन्दगानी, इस पर राजनीति और खिलवाड़ नही होना चाहियें: आज़म खान

Jul 19, 2016

शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के शिष्य प्रतिनिधि स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद से मिलने काशी के विद्यामठ पहुंचे प्रदेश के नगर विकास मंत्री आजम खां ने कहा है कि गंगा आपके लिए आस्था है पर मेरे लिए यह जिन्दगानी है। स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद ने गणेश प्रतिमा विसर्जन का मुद्दा उठाया और इसके शीघ्र समाधान का आग्रह किया।

स्वामी जी ने गणेश मूर्ति विसर्जन मामले में गंगा प्रदूषण, हिन्दू आस्था, परम्परा और वैज्ञानिक तथ्यों की विस्तृत चर्चा की। उन्होंने कहा कि आस्था के साथ खिलवाड़ या राजनीति ठीक नहीं है। इस पर आजम खां ने सुझाव दिया कि आप पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमण्डल बना लीजिए। मुख्यमंत्री से भेंटकर मामले का सार्थक हल निकाला जायेगा।
मठ में आजम खां ने खाया बाटी-चोखाआजम खां ने केदारघाट स्थित विद्यामठ में भोजन भी किया। उन्हें दाल, बासमती चावल, परवल की कलौंजी, बूंदी रायता, रोटी, आलू-कोहड़ा की सब्जी, सलाद, चटनी, खीरमोहन, लड्डू व पापड़ के साथ ही बाटी-चोखा भी परोसा गया।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>