तृप्ति देसाई को समझाया गया की ,इस्लाम में दरगाह और कब्रिस्तान पर औऱतों का जाना सख्त मना है

Apr 29, 2016

महाराष्ट्र के मंदिरों में महिलाओं को पूजा-अर्चना करने का अधिकार दिलाने के बाद भूमाता ब्रिगेड की अध्यक्ष तृप्ति‍ देसाई ने अब मुंबई की हाजी अली दरगाह का रुख किया है। देसाई ने कहा कि वह हिंदू महिलाओं के पूजा-पाठ के हक के बाद अब मुस्लिम औरतों के लिए भी संघर्ष करेंगी। उनके इस कदम के विरोध में एमआईएम और दूसरे धार्मिक संगठन एक साथ हो गए हैं, वहीं टकराव की स्थिति के एहतियातन पुलिस ने दरगाह के चारों ओर बैरिकेडिंग कर दी है। उधर, दरगाह प्रबंधन ने साफ कर दिया है कि वह महिलाओँ को दरगाह की ओर जाने नहीं देंगे।

इस मुद्दे पर एमआईएम नेता रफत हुसैन के मुताबिक हमारे धर्म के खिलाफ जाएंगे तो हम कालिख 100 फीसदी पोतेंगे। तृप्ति देसाई कानून हाथ में ले सकती हैं तो हम क्यों नहीं? इतना ही नहीं रफत हुसैन ने तृप्ति पर मुस्लिम औरतों को भड़काने की कोशिश का भी आरोप लगाया है। इससे पहले शिवसेना नेता हाजी अराफात तृप्ति को चप्पल से पीटने की चेतावनी दे चुके हैं।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>