आज़ाद हुई लड़कियों ने बताया: 30-30 लोगों के साथ सोना पड़ता है, नहीं तो वह लोग हमें

Jul 24, 2017
आज़ाद हुई लड़कियों ने बताया: 30-30 लोगों के साथ सोना पड़ता है, नहीं तो वह लोग हमें

दिल्ली जहां रात होते ही चालू हो जाता है, एक और बाज़ार जिसमे किया जाता है महिलाओं के जिस्म का सौदा। बेचा जाता है मासूम नाबालिग लड़कियों को, और उनसे कराया जाता है जिस्म फरोशी का धंधा। कुछ ही दिन पहले दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने दिल्ली के फैमस इलाके जीबी रोड में फांसी दो नाबालिग लड़कियों को बहार निकला है। आज़ाद हुई इन दोनों लड़कियों की उम्र 16 साल है, और दोनों ही लड़कियां नेपाल की रहने वाली हैं। आपको बता दें कि नेपाल में इन दोनो लड़कियों की गुमशुदगी की शिकायत भी दर्ज है। बताया गया है कि नेपाल में भूकंप की वजह से भूखमरी फैल गई थी, तो ये दोनों लड़की जीविका की तलाश में भारत आ गई थी। पहली लड़की को दो साल पहले जीबी रोड में बेचा गया था। और दूसरी लड़की को खुद एक नेपाली महिला चार महीने पहले जीबी रोड लाकर बेचकर गई थी।

ये भी पढ़ें :-  भगवा गुंडा मुस्लिम महिला को बकता रहा भद्दी-भद्दी गालियां, तमाशा देखती रही पुलिस

जब इन दोनों में से एक लड़की किसी तरह भाग निकली, तो उसने पुरे मामले की जानकारी किसी शख्स को दी। उस शख्स ने पुरे मामले को जानने के बाद इस लड़की की सूचना एनजीओ को दी। फिर एनजीओ ने दिल्ली महिला आयोग को इस भागी हुई महिला के बारे में बताया, तो दिल्ली महिला आयोग ने महिला के पास अपनी टीम भेजी। फिर इस भागी हुई लड़की ने दूसरी लड़की के बारे में भी आयोग को पूरी जानकारी दी, जिसके बाद आयोग व एनजीओ की टीम पुलिस को साथ लेकर दूसरी लड़की को आजाद कराने जीबी रोड पहुंची। 56 नंबर कोठे से दूसरी लड़की को रेस्क्यू कराया गया।

ये भी पढ़ें :-  लालू के बेटे तेजस्वी यादव पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज, राष्ट्रगीत वंदे मातरम् के अपमान का आरोप

आज़ाद हुई इन लड़कियों ने बताया कि, उनसे मारपीट की जाती थी और उन्हें कई-कई दिनों तक भूखा रखा जाता था। लड़कियों ने बताया कि उन्हें 30-30 लोगों के साथ सोने के लिए मजबूर किया जाता था। ऐसा नहीं करने पर उनके साथ बहुत ज्यादा मारपीट होती थी और उसे कमरे में बंद रखा जाता था। बताया कि, जीबी रोड पर लाने से पहले उन्हें मजनूं की टीला पर एक मकान में रखा जाता था और वहां उनका रेप किया जाता था। इस घटना पर स्वाति जयहिंद ने कहा कि, जीबी रोड के 100 मीटर पर पुलिस स्टेशन है। नाबालिग लड़कियो को बेचा जा रहा है और पुलिस को इसकी कोई सूचना नहीं रहती है।

ये भी पढ़ें :-  मुस्लिम लोग हिन्दुओं की तुलना में बहुत ज्यादा अच्छे होते हैं: सोनम कपूर

कहा कि ये 56 नंबर कोठा उसी आफाक का है, जिसने लड़कियों को बेचकर और उनसे जिस्मफरोसी का धंधा कराकर 100 करोड़ की प्रॉपर्टी बनाई है। उसके हौसले इतने बुलंद हैं कि आज भी उसके कोठे पर नाबालिग लड़कियों को बेचा जा रहा है और उनसे गलत काम करवाया जा रहा है। जीबी रोड का पूरा नरक संसद से सिर्फ 3 किलोमीटर की दूरी पर चल रहा है। स्वाति जयहिंद ने कहा कि ये जीबी रोड सिस्टम की मिलीभगत से चल रहा है और अब इसको हर हाल में बन्द करवाना ही होगा।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>