यूपी में बेरहमी से किया गया चार कत्ल, मारने से पहले दो बेटियों से किया रेप

Apr 28, 2017
यूपी में बेरहमी से किया गया चार कत्ल, मारने से पहले दो बेटियों से किया रेप

लखनऊ शहर से से करीब 25 किलोमीटर दूर नवाबगंज के सहावपुर में रविवार की रात घर के भीतर परचून दुकानदार मक्खनलाल गुप्ता (48)) को पत्नी मीरा (46) और दो जवान बेटियों समेत बेरहमी से मार डाला गया। बेटियों के साथ रेप के बाद घर में लूटपाट की गई। छत के रास्ते मकान में घुसे अपराधी वारदात के बाद पिछला दरवाजा खोलकर भाग गए।

सोमवार सुबह घटना की जानकारी मिलने पर आईजी जोन और डीआईजी समेत एसटीएफ तथा क्राइम ब्रांच टीम पहुंच गई। नामजद रिपोर्ट लिखकर यादव परिवार के पांच लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। देर रात तक उनसे पूछताछ की जा रही थी। निरीक्षण के बाद पुलिस का मानना है कि आधी रात को छत के रास्ते घुसे अपराधियों ने पहले दंपति को मार डाला। फिर रेप के बाद बेटियों को मार दिया और लूटपाट कर पिछले दरवाजे से निकल गए। घटना की जानकारी पाकर प्रतापगढ़ से आए पुत्र रंजीत ने आरोप लगाया कि कुछ दूर पर रहने वाले यादव परिवार के लोगों ने ही उसके माता-पिता और बहनों को मारा है। उन लोगों ने होली पर धमकी दी थी कि पूरे परिवार को खत्म कर देंगे।। पुलिस ने सभी पांच आरोपियों राजबहादुर यादव उर्फ भल्लू, शिवबाबू यादव, नवीन, नरेंद्र, अजय को पकड़ लिया। पकड़े गए लोगों ने ही कत्ल किया या हत्यारे कोई और हैं, इसकी एसटीएफ के साथ क्राइम ब्रांच जांच कर रही है।

नवाबगंज के सहावपुर में मक्खनलाल गुप्ता का घर सड़क पर घर है। उसने घर में किराने की दुकान खोल रखी थी जिससे उसके घर का खर्चा चलता था। घर में पत्नी मीरा, तीन बेटियों और पुत्र रंजीत के साथ रहता था। बड़ी बेटी रंजना मेरठ से बी. फार्मा करने के बाद शिमला की एक फर्म में नौकरी करने लगी। बेटा रंजीत बीए की परीक्षा देने के लिए 20 अप्रैल से प्रतापगढ़ गया था। रविवार को घर में मक्खनलाल पत्नी और दो बेटियों के साथ था। देर शाम तक लोगों ने उसे दुकान में देखा था।

रंजीत ने बताया कि घर पर फोन कर रहा था। लेकिन कॉल रिसीव नहीं हुआ। फिर उसने आधा किलोमीटर दूर रहने वाले अपने चाचा नोखेलाल को फोन किया तो वह उसके घर गए। चैनल गेट में भीतर से ताला लगा था। देर तक आवाज लगाने पर नोखेलाल मकान के पिछले दरवाजे की तरफ गए। दरवाजा खुला था। नोखेलाल कमरे में गए तो वहां का नजारा देख सन्न रह गए। बिस्तर पर मक्खनलाल के साथ पत्नी मीरा और बड़ी बेटी खून से लथपथ पड़ी थीं। छोटी बेटी भी फर्श पर लहूलुहान पड़ी थी। नोखेलाल ने बाहर निकलकर शोर मचाया तो आसपास के लोग जुट गए। जिसके बाद सुचना पर पुलिस भी मौके पर पहुँची।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>