पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा- कानूनी डकैती थी नोटबंदी, GST ने कारोबार की कमर तोड़ दी

Nov 07, 2017
पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा- कानूनी डकैती थी नोटबंदी, GST ने कारोबार की कमर तोड़ दी

गुजरात में मंगलवार को भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने नोटबंदी, जीएसटी और बुलैट ट्रेन को लेकर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला है। पूर्व पीएम ने कहा कि जीएसटी और नोटबंदी दोनों ही हमारी अर्थव्यवस्था के लिए बहुत खतरनाक कदम हैं।

डॉ. मनमोहन सिंह ने नोटबंदी को एक संगठित लूट बताते हुए कहा कि, “8 नवंबर हमारे देश के लोकतंत्र और अर्थव्यवस्था के लिए एक काला दिन था। कल हम अपने देश के लोगों पर एक विनाशकारी नीति थोपे जाने का एक साल पूरा कर लेंगे।” डॉ. सिंह ने सरकार की मंशा पर सवाल उठाते हुए कहा कि, “दुनिया के किसी भी देश में 86% करेंसी को बंद करने का कठोर कदम नहीं उठाया गया। लेसकैश अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए नोटबंदी जैसे कदम पर्याप्त न हीं हैं।”

उन्होंने कहा कि “मैंने जो संसद में कहा था, उसे मैं दोहराना चाहता हूं। यह एक सुनियोजित लूट और कानून डकैती थी” उन्होंने नोटबंदी को बिना सोचे-समझे जल्दबाजी में उठाया गया कदम बताते हुए कहा कि किसी भी लक्ष्य की प्राप्ति नहीं हुई है। साथ ही उन्होंने कहा कि जीएसटी के तहत अनुपालन की शर्तें छोटे व्यवसायों के लिए दु:स्वप्न बन गई हैं। उन्होंने कहा कि ‘एक साल में आयात 23 प्रतिशत बढ़कर 45,000 करोड़ रुपये से ऊपर चला गया।’ इसके लिए बड़े पैमाने पर नोटबंदी और जीएसटी को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि पूरी दुनिया में एक भी देश ऐसा नहीं है जिसने ऐसा विनाशकारी कदम उठाया हो जिसमें 86 प्रतिशत करंसी का सफाया हो जाए।

मनमोहन सिंह ने बुलेट ट्रेन पर भी मोदी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि, ”बुलेट ट्रेन को सिर्फ दिखावे के लिए जोर शोर से लॉन्च किया गया है। क्या प्रधानमंत्री ने ब्रॉडगेट रेलवे को अपग्रेड करके हाई स्पीड ट्रेन का विकल्प तलाशने का प्रयास किया? बुलेट ट्रेन पर प्रश्न करने से क्या कोई विकास विरोधी हो जाता है ? क्या जीएसटी और नोटबंदी पर सवाल करने से कोई टैक्स चोर हो जाता है?”

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>