पूर्व मुख्यमंत्री की सोच गोवा डिफेंस एक्सपो पर एयरफोर्स स्टेशन बनाने की

Apr 01, 2016

हर दो साल पर दिल्ली के प्रगति मैदान में आयोजित होने वाले इंटरनेशनल डिफेंस एक्सपो को इस बार यहां से निकालकर गोवा में किया गया.

इसे दक्षिण गोवा के बिल्कुल ही निचाट और अविकसित विशाल क्षेत्र में करने के पीछे क्या रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर का कोई दूसरा बड़ा उद्देश्य था ! कहा जा रहा है कि गोवा की राजनीति में शिद्दत से दखल देने/रखने वाले वहां के इस पूर्व मुख्यमंत्री की सोच वहां यानी डिफेंस एक्सपो स्थल पर एयरफोर्स स्टेशन बनाने की है.

दरअसल भारतीय वायुसेना दक्षिण में अपनी उपस्थिति को और भी दमदार बनाना चाहती है. इसके लिए गोवा में एक वायुसेना केंद्र की जरूरत लंबे समय से महसूस की जा रही है. गोवा में अभी जो एयरबेस है, वह नौसेना (आईएनएस-हंसा) का है. जिसका उपयोग वायुसेना भी जरूरत पड़ने पर करती रहती है, लेकिन सिर्फ जहाजों के आवागमन के लिए.

गोवा के अधिकारिक सूत्रों ने बताया कि गोवा में जिस स्थान पर रक्षा मंत्रालय ने अपना नौंवा डिफेंस एक्सपो (लैंड, नवल, इंटरनल होमलैंड एंड सेक्युरिटी सिस्टम एक्जीबिसन) आयोजित किया है उसका नाम है- नाक्यूरी क्यूटोल इन क्यूपेम तालुका ऑफ साउथ गोवा. वहां के छह लाख वर्ग मीटर जमीन पर डिफेंस एक्सपो का आयोजन किया गया था. उस जमीन को गोवा के मुख्यमंत्री लक्ष्मीकांत पार्सेकर ने अस्थायी तौर पर रक्षा मंत्रालय यानी भारत सरकार को डिफेंस एक्सपो के लिए अलॉट किया था.

गोवा में भी भाजपा की सरकार होने का लाभ रक्षा मंत्रालय को मिला. हालांकि इसको लेकर राज्य की कांग्रेस इकाई ने हो-हल्ला मचा रखा है. कांग्रेस का कहना है कि डिफेंस एक्सपो के बहाने रक्षा मंत्रालय राज्य की उस जमीन पर अपना कब्जा बरकरार रखना चाहती है. उसके पीछे जो मंशा है वह वहां एयरफोर्स स्टेशन बनाने की है.

हालांकि गोवा के बहुत सारे लोगों को इसमें कोई बुराई नजर नहीं आती, क्योंकि आखिरकार केंद्रीय योजनाओं और रक्षा विभाग के लिए जमीन उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी तो राज्य सरकारों की ही है. हालांकि गोवा में इसको लेकर कुछ राजनीतिक संगठन विरोध पर उतर आए हैं. इसके पीछे वहां दक्षिण और उत्तर गोवा की आपसी खींचतान वाली राजनीति है.

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर दक्षिण गोवा से आते हैं. उनकी यह प्रबल चाह है कि उनके इलाके में कोई बड़ा सेटअप स्थापित हो. इसलिए उन्होंने डिफेंस एक्सपो आयोजित कराने के बहाने अस्थायी तौर पर ही सही उक्त जमीन पर पहले झंडा गाड़ने का काम किया. जाहिर है उसके बाद तो जमीन पर स्थायी कब्जे का काम आसान हो ही जाएगा.

नाक्यूरी क्यूटोल साउथ गोवा जिले में पड़ता है, जो जिला मुख्यालय मरगाव से 18 किलोमीटर दक्षिण और गोवा के प्रमुख रेलवे स्टेशन मडगांव से 16 किलोमीटर दूर है. हालांकि राजधानी पणजी से इसकी दूरी 49 किलोमीटर है. रक्षा मंत्रालय के अंतर्गत ‘डिफेंस एक्सपो-2016’  एसपीवी (स्पेशल पर्पज व्हेकिल) ने करोड़ों रुपए उस स्थान पर सड़क निर्माण, अस्थायी पैवेलियन निर्माण, स्टेजेज, हेलीपैड, बिजली, पानी इत्यादि के लिए खर्च किए हैं. उस जमीन को समतल करने में भी भारी मशक्कत करनी पड़ी.

बहरहाल, अधिकारिक सूत्रों ने इस बात से इनकार नहीं किया है कि डिफेंस एक्सपो वाले स्थान पर एयरफोर्स स्टेशन के निर्माण की योजना वहां भारत सरकार की है. और इसके लिए एक शानदार प्लेटफार्म भी तैयार हो ही चुका है.

 

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>