इन 7 STEP को फॉलो करें और बचाएं, अपना पानी में डूबा हुआ फ़ोन..

May 31, 2017
इन 7 STEP को फॉलो करें और बचाएं, अपना पानी में डूबा हुआ फ़ोन..

मौसम विभाग के अनुसार बहुत जल्द ही मानसून दस्तक देने वाला है। क्योंकि मानसून केरल में दस्तक दे चूका है। और वहां से होते हुए ये मानसून देशभर में फैल जाएगा। मानसून के आते ही सबसे ज्यादा परेशानी स्मार्टफोन यूजर्स को होती है। लेकिन, अगर उनके पास वाटरप्रूफ स्मार्टफोन है तो उनके लिए कोई परेशानी नहीं है। मगर जिन यूजर्स के पास वाटरप्रूफ स्मार्टफोन नहीं है। और उनका स्मार्टफोन बारिश में भीग जाता है। तो अब ऐसे यूजर्स घबराने की कोई जरूरत नहीं है। बल्कि इस मौके पर अपने दिमाग को शांत रखते हुए फोन को सुखाने के बारे में सोचना चाहिए। लेकिन इस बारे में कुछ चीज़ों को ध्यान में रख कर अपना फोन आप को सुखाना है।

जैसे कि फोन के भीग जाने के बाद उसे ड्रायर से सुखाने की कोशिश बिलकुल ना करें। क्यों कि ड्रायर बहुत ज्यादा गर्म हवा फेंकता है। और ऐसे में आपके फोन के सर्किट्स पिघल सकते हैं।
और इस समय दूसरी याद रखने वाली बात ये है। कि अगर फोन भीग गया है, तो फोन को तुरंत ऑफ करें। क्यों कि किसी और बटन का इस्तेमाल करने से शॉर्ट सर्किट का खतरा काफी बढ़ जाता है।
और ना ही हेडफोन जैक और फोन के यूएसबी पोर्ट का इस्तेमाल करें, जब तक आपका फोन पूरी तरह से सूख ना जाए। क्योंकि इनका इस्तेमाल करने से नमी का फोन के इंटरनल पार्ट्स में पहुंचने का खतरा बढ़ जाता है।

ये भी पढ़ें :-  महिलाओं के लिए 'माहवारी छुट्टी' कितनी जरूरी?

इस बारे में मोबाइल रिपेयरिंग एक्सपर्ट प्रशांत दिलारे (भोपाल) कहते हैं कि मोबाइल के पानी को सुखाने के लिए कभी भी ड्रायर या किसी अन्य इलेक्ट्रॉनिक इक्विपमेंट का इस्तेमाल न करें। क्यों कि इससे आप का फोन और ज्यादा खराब हो सकता है। बल्कि सिलिका जेल के पैकेट या चावल से मोबाइल को आसानी से सुखाया जा सकता है।
आप इन स्टेप्स को फॉलो करें।
STEP: 1


आप का फोन अगर पानी में भीग गया है। तो पहले आप अपना फ़ोन को ऑफ कर दें। क्योंकि फोन के ऑन रहते हुए अगर पानी अंदर के किसी पार्ट में चला गया तो शॉट सर्किट का खतरा बढ़ जाता है। और अगर आप का फोन पानी में गिर कर भीग गया है। तो फिर ये चेक करने की कोशिश बिलकुल ही ना करें, कि उसका कोई बटन चल रहा है या नहीं। सबसे पहले उसे फोन को ऑफ करना ही समझदारी होगी।
STEP: 2

ये भी पढ़ें :-  पहली बार संभोग के दौरान सभी स्त्रियों को रक्त आना इसलिए नहीं है ज़रूरी, जानिए


भीगे हुए फोन को ऑफ करने के बाद, अब उसके सभी पार्ट्स को अलग-अलग कर दें। यानी की बैटरी, सिम कार्ड, मेमोरी कार्ड के साथ फोन से अटैच की हुई कॉर्ड को भी अलग करके एक सूखे हुए टॉवल पर रखें। ऐसा करने से शॉर्ट सर्किट का खतरा कम हो जाता है।
STEP: 3


अगर आपके फोन में फिक्स रहने वाली बैटरी (नॉन-रिमूवेबल बैटरी) है। तो बैटरी निकालकर ऑफ करने का विकल्प खत्म हो जाता है। ऐसे में आपको पावर बटन को उस समय तक दबाकर रखना है। जब तक की आपका फोन ऑफ नहीं हो जाता है। क्योंकि नॉन रिमूवेबल बैटरी वजह से शॉर्ट सर्किट हो सकता है।
STEP: 4


अपने फोन के पार्ट्स को अलग-अलग करने के बाद फोन के सभी पार्टस को सुखाना जरूरी है। इसके बाद आप पेपर नैपकिन का इस्तेमाल की जिए क्योंकि ये सबसे अच्छा माना जाता है। इसके अलावा आप अपने फोन को पोंछने के लिए नरम तौलिए का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
STEP: 5

ये भी पढ़ें :-  कुछ ऐसे संकेत जिससे आप बन जाएंगे बहुत जल्दी अमीर


टॉवल से पोंछने के बाद आपके लिए सबसे जरूरी काम है। फोन के इंटरनल पार्ट्स को सुखाना। इसके लिए अब आपको अपने फोन को सूखे चावल में दबाकर एक बर्तन में रख दीजिए। क्योंकि चावल तेजी से नमी सोखते हैं। ऐसे में आपके फोन के इंटरनल पार्ट्स जल्दी सूख जाएंगे।
STEP: 6


और अगर आप अपने फ़ोन को चावल के बर्तन में नहीं रखना चाहते तो कोई बात नहीं, फिर आप सिलिका जेल पैक (silica gel pack) का इस्तेमाल करें। ये जेल पैक्स जूतों के डिब्बों में रखे जाते हैं। क्यों कि इनमें चावल से ज्यादा तेजी से नमी सोखने की शक्ती होती है।
STEP: 7


भीगे हुए फ़ोन को टॉवल से पोंछने के बाद कम से कम 24 घंटों तक सिलिका पैक या फिर चावल के बर्तन में रहने देना है। जब तक की ये पूरी तरह सूख ना जाए इसे आप ऑन ना करें। अपने फोन के साथ-साथ बैटरी और बाकी पार्ट्स को भी चावल में सुखाया जा सकता है। और ये बात आप को याद रहे कि जब तक फोन पूरी तरह से ना सूखे इसे तब तक ऑन ना करें।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>