मंदसौर में किसानों ने डीएम को पीटा, बीजेपी नेताओं को भी उल्टे पाँव पड़ा भागना

Jun 07, 2017
मंदसौर में किसानों ने डीएम को पीटा, बीजेपी नेताओं को भी उल्टे पाँव पड़ा भागना

मध्य प्रदेश के मंदसौर में किसानों का गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहा। भीड़ ने प्रदर्शनकारियों का समझाने पहुंचे जिलाधिकारी स्वतंत्र कुमार सिंह की पिटाई कर दी और पुलिस अधीक्षक ओ. पी. त्रिपाठी के साथ भी बदसलूकी की।

पुलिस की गोलीबारी में मंगलवार को पांच लोग मारे गए थे, जिनमें एक छात्र अभिषेक पाटीदार भी था। उसके शव के साथ ग्रामीण और किसान बरखेड़ा पंत गांव की सड़क पर चक्का जाम किए हुए हैं। उनकी मांग है कि मृतक को शहीद का दर्जा दिया जाए।

जिलाधिकारी स्वतंत्र कुमार सिंह व पुलिस अधीक्षक ओ. पी. त्रिपाठी मौके पर पहुंचे और चक्काजाम कर रहे लोगों को समझाने की कोशिश की, मगर भीड़ ने उन्हें घेर लिया। हालात बिगड़ते देख दोनों अफसरों ने वहां से निकलने की कोशिश की। वे भीड़ के बीच से भाग रहे थे तभी पीछे से लोगों ने जिलाधिकारी के सिर पर थप्पड़ जड़ दिए। वहीं पुलिस अधीक्षक से भी बदसलूकी की गई। दोनों अधिकारी किसी तरह सुरक्षित बच निकलने में सफल हुए।

वहीँ बीजेपी अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान और मंत्री गौरीशंकर बिसेन को भी मंदसौर सीमा से वापस लौटना पड़ा। वहीँ कांग्रेस नेता और पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन किसानों के अंतिम संस्कार में शामिल होने मंदसौर जा रही थीं, लेकिन पुलिस ने उन्हें रास्ते में ही रोक लिया और वहाँ जाने नहीं दिया।

ये भी पढ़ें :-  योगी राज में प्रदेश पर चढ़ा भगवा का खुमार, थाने पर भी चढ़ा भगवा रंग

जिलाधिकारी सिंह ने बुधवार को आईएएनएस से कहा कि मंगलवार को हुई गोलीबारी में पांच लोगों की मौत हुई है। हालांकि उन्होंने पुलिस द्वारा गोलीबारी किए जाने से इंकार किया है और कहा कि उन्होंने गोलीबारी के आदेश नहीं दिए थे।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>