श्रीमद भागवत गीता का उर्दू में अनुवाद करने वाले मशहूर शायर अनवर जलालपुरी का इंतकाल

Jan 02, 2018
श्रीमद भागवत गीता का उर्दू में अनुवाद करने वाले मशहूर शायर अनवर जलालपुरी का इंतकाल

मुशायरों की ‘जान’ माने जाने वाले उर्दू अदब के मशहूर शायर अनवर जलापुरी का 70 की उम्र में इंतकाल हो गया। उन्होंने मंगलवार को सुबह लखनऊ स्थित ट्रॉमा सेंटर में आखिरी सांस ली। उनके परिवार में तीन बेटे और पत्नी है


बता दें कि उर्दू अदब के मशहूर शायर अनवर जलापुरी को मुशायरों की बेहतरीन निजामत के लिए पहचाना जाता था। इतना ही नहीं बल्कि उन्होंने गीता का उर्दू में अनुवाद किया था। जिस पर उनको साल 2015 में उत्तर प्रदेश के सर्वश्रेष्ठ ‘यश भारती’ सम्मान से नवाजा गया था। इसके अलावा इन्होंने ‘राहरौ से रहनुमा तक’, ‘उर्दू शायरी में गीता’ पुस्तकें लिखीं जिन्हें बेहद सराहा गया था। उन्होंने ‘अकबर द ग्रेट’ धारावाहिक के संवाद भी लिखे थे।

ये भी पढ़ें :-  बजट: वित्त मंत्री अरुण जेटली के भाषण पर सोशल मीडिया में लोगो ने ली चुटकी

मिली जानकारी के मुताबिक उनके परिवार में पत्नी और तीन बेटे हैं। उनके बेटे ने बताया कि जलालपुरी को 28 दिसंबर को उनके घर में मस्तिष्क आघात के बाद किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया था। जहां सुबह करीब सवा नौ बजे उन्होंने अंतिम सांस ली।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>