Friendship Day: दोस्ती क्या होती है, जानिए अब्दुल कलाम से

Aug 07, 2016

के बारे में हर इंसान अपना नजरिया बनाता है। जिंदगी में इस रिश्ते से हर कोई रू ब रू होता है। हर कोई दोस्त बनाता है।

दोस्ती का रिश्ता जिंदगी में कितनी अहमियत रखता है, इसे इसी बात से समझा जा सकता है कि बड़े बड़े विद्वानों और मशहूर लोगों ने इस पवित्र रिश्ते पर कुछ न कुछ जरूर कहा है।

आईए पढ़ते हैं दोस्ती पर कहे गए कुछ फेमस क्वोट्स:

The story continues. Click through the slides for more:

अब्दुल कलाम

हमारी सबसे बेहतरीन किताब 100 दोस्तों के बराबर होती है लेकिन एक बढ़िया दोस्त एक लाइब्रेरी के बराबर होता है।

चाणक्य

कभी भी उन लोगों से मित्रता मत कीजिए जो आपसे कम या ज्यादा प्रतिष्ठा के हों। ऐसी मित्रता कभी भी आपको खुशी नहीं देगी।

ह्यूबर्ट हम्फ्री

जीवन का सबसे बड़ा उपहार दोस्ती है और यह मुझे सौभाग्य से मिला है।

खलील जिब्रान

दोस्ती एक बेहद ही सुखद जिम्मेदारी है, अवसर नहीं।

मोहम्मद अली

दोस्ती का मतलब स्कूल में नहीं सीखा जाता। अगर आपने दोस्ती का मतलब नहीं सीखा तो जीवन में कुछ नहीं सीखा।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>