Ex DM की पोती ने की मुस्लिम लड़के से शादी, BJP व हिंदू संगठनों ने किया जमकर हंगामा

Dec 23, 2017
Ex DM की पोती ने की मुस्लिम लड़के से शादी, BJP व हिंदू संगठनों ने किया जमकर हंगामा

साल 1980 में उत्तर प्रदेश के DM रह चुके राजेंद्र अग्रवाल की पोती नूपुर अग्रवाल ने धर्म के विपरीत जाते हुए एक मुस्लिम युवक युसूफ से शादी कर मानों कि जैसे एक हंगामा खड़ा कर दिया हो। क्योंकि धर्म के ठेकेदारों को उनकी शादी बेहद नागवार गुज़री, जिसके खिलाफ उन्होंने जमकर विरोध करना शुरू कर दिया।

बता दें कि मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक साल 1980 में गाजियाबाद के DM रहे चुके राजेंद्र अग्रवाल की पोती नूपुर अग्रवाल ने न्यूरो सर्जन में डॉक्टरी की पढाई की है। जहाँ उनके कॉलेज में उनके साथ ही एक मुस्लिम युवक जिसका नाम यूसुफ बताया जा रहा है। वो भी डॉक्टरी की पढ़ाई करता था। धीरे-धीरे दोनों एक दूसरे के संपर्क में आए, इधर इनकी पढ़ाई तो पूरी हो ही रही थी। लेकिन दूसरी तरफ ये दोनों एक दूसरे के बेहद करीब आते गए और इन्होंने आपसी रजामंदी से दोनों ने अपनी डॉक्टरी की पढ़ाई पूरी करने के बाद धर्म की परवाह न करते हुए कोर्ट मैरिज कर ली। जिसकी सूचना इन्होंने अपने-अपने परिवार को दे दी थी। जहाँ शुक्रवार को नूपुर अग्रवाल के घर पर एक पार्टी का आयोजन किया गया था। इस आयोजन में नूपुर अग्रवाल के अलावा पति युसुफ और उसके रिश्तेदार भी शामिल हुए थे। लेकिन जैसे ही इस बात की भनक हिंदू संगठन के लोगों को पता चली इन्होंने इस तरह की शादी की है तो सभी इकठा होकर नूपुर अग्रवाल के घर पर जा धमके और इस धर्म के विपरीत हुई शादी का जमकर विरोध करना शुरू कर दिया।

ये भी पढ़ें :-  निमोनिया से पीड़ित 15 माह की बच्ची को तांत्रिक ने गर्म सलाख से दागा, हालत गंभीर

इन लोगों को पहले नूपुर अग्रवाल और उसके पति युसुफ के परिजनों ने समझाया कि इस शादी से नूपुर अग्रवाल और यूसुफ बेहद खुश हैं। क्योंकि दोनों ही पढ़े-लिखे हैं। एक साथ ही दोनों ने डॉक्टरी की पढ़ाई की है और दोनों ने ये फैसला काफी सोच समझकर कर लिया है। इसलिए दोनों के ही परिजन इनके फैसले का स्वागत करते हैं तो इससे दूसरे लोगों को या समाज के लोगों को क्या लेना देना। लेकिन उसके बाद उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी, जहाँ DM को दी तहरीर हालांकि इस शादी का विरोध करने वाले लोगों ने गाजियाबाद की जिला अधिकारी रितु माहेश्वरी को भी लिखित में तहरीर दी है।

ये भी पढ़ें :-  फिल्म 'पद्मावत' देखने गई लड़की के साथ दोस्त ने सिनेमा हॉल में किया रेप, फेसबुक पर हुई थी दोस्‍ती

इस बारे में उनका कहना है कि “दोनों ने धर्म के विपरीत शादी की है। इससे इलाके का माहौल खराब हो सकता है। लेकिन शुरुआती दौर में आए सभी लोगों को नूपुर और यूसुफ के द्वारा अपना फैसला सुनाने के बाद उल्टे पांव वापस लौटना पड़ा। लेकिन हैरानी की बात ये है कि इस बीच हिंदू रक्षा दल और भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को इस बात का पता चला तो सभी लोग एक मंच पर इकट्ठे होकर एआरटी सेंटर के सामने धरने पर बैठ गए और सड़क को जाम कर दिया। पूरा मामला दो अलग अलग धर्मों से जुड़े लड़का-लड़की के शादी के बाद किए जा रहे रिसेप्शन से संबंधित है।

ये भी पढ़ें :-  कासगंज हिंसा पर बोले रामगोपाल यादव-'हिंदू ही हिंदू को मार रहा लेकिन फँसाए जा रहे मुसलमान'

वही हिंदू संगठनों और BJP कार्यकर्ताओं ने दोनों की शादी को लव जिहाद का नाम देकर प्रदर्शन किया। जिसके बाद पुलिस ने हल्के बल का प्रयोग कर प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा। इस बात के विरोध में बीजेपी कार्यकर्ता और हिंदू संगठनों ने सड़क को जाम कर एक बार फिर से प्रदर्शन शुरू किया। जिसके बाद बिगड़ते हालात को देखते हुए गाजियाबाद एसएसपी हरि नारायण सिंह के मौके पर पहुंचे प्रदर्शनकारियों से बात कर उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर प्रदर्शन को समाप्त कराया। फिलहाल माहौल शांतिपूर्ण लेकिन अभी भी भारी संख्या में पुलिस फोर्स मौके पर मौजूद है।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>