शर्मनाक: दाढ़ी रखना मुस्लिम छात्रों को पड़ा भारी, NCC कैंप से धक्के मारकर किया गया बहार

Dec 26, 2017
शर्मनाक: दाढ़ी रखना मुस्लिम छात्रों को पड़ा भारी, NCC कैंप से धक्के मारकर किया गया बहार

दिल्ली की सेंट्रल यूनिवर्सिटी जामिया मिल्लिया इस्लामिया से शर्मनाक खबर सामने आयी है जहा पर दाढ़ी रखने की वजह से 11 छात्रों को NCC कैंप से बाहर कर दिया गया। लेकिन उससे पहले उन्हें दो ऑप्शन दिए गए थे,या तो वो दाढ़ी कटा ले या फिर कैंप से बहार हो जाये।

बता दे कि डीएनए की खबर के अनुसार जब इन छात्रों ने दाढ़ी कटाने से मना कर दिया तब इन छात्रों के साथ बदसुलूकी करके उन्हें कैंप से बाहर कर दिया गया। छात्रों ने कहा हम 3 साल से कैंप में शामिल हो रहे है लेकिन कभी भी इस तरह का व्यवहार सामने नहीं आया हमारे साथ ऐसा पहली बार हुआ है।
अब सभी छात्र धरने पर बैठे हुए है और अपने इन्साफ की गुहार लगा रहे है। इन छात्रों ने मांग की है हमारे साथ हुए ऐसे शर्मनाक व्यवहार के लिए हम्हे इन्साफ मिले ,और जो भी अधिकारी इसमें शामिल थे वह माफी मांगे और हमसे वादा किया जाये भविष्य में इस तरह की कोई भी घटना ना घटेगी।

ये भी पढ़ें :-  शिवसेना नेता बोले- 'गुजरात चुनाव ट्रेलर था, राजस्थान उपचुनाव इंटरवल है, पूरी फिल्म 2019 में देखेंगे'

इस बारे में जामिया के छात्र इमरान चौधरी ने बात करते हुए बताया कि भारतीय संविधान या रक्षा सेवा , पुलिस प्रशासन में इस तरह कोई भी कानून या नियम लागू नहीं होता है। यह व्यवहार एक तरह का भेदभाव पूर्ण घटना को दर्शाता है ,इसमें विधान के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है तथा व्यक्तिगत रूप से स्वतंत्रता का उल्लंघन हो रहा है। ये मानवता को शर्मसार करने वाली बात है। हमारी मांग है सभी छात्रों को इन्साफ मिलना चाहिए और जो भी अधिकारी इसमें शामिल थे वह माफ़ी मांगे, और छात्रों के कैंप के सर्टिफिकेट को उन्हें वापस लौटाया जाये , तथा फिर से छात्रों को सम्मान के साथ NCC कैंप में रखा जाये।

ये भी पढ़ें :-  कासगंज हिंसा पर बोले रामगोपाल यादव-'हिंदू ही हिंदू को मार रहा लेकिन फँसाए जा रहे मुसलमान'
लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>