चुनाव आयोग में हारे मुलायम, साइकिल चुनाव चिह्न मिली बेटे अखिलेश को

Jan 16, 2017
चुनाव आयोग में हारे मुलायम, साइकिल चुनाव चिह्न मिली बेटे अखिलेश को

नई दिल्लीः समाजवादी पार्टी में चुनाव चिह्न पर मचे घमासान पर आखिरकार चुनाव आयोग ने फैसला सुना दिया। अब साइकिल चुनाव चिह्न अखिलेश गुट इस्तेमाल कर सकेगा। वहीं मुलायम सिंह यादव गुट के दावे कमजोर निकले, जिस पर आयोग ने चुनाव चिह्न पर दावेदारी खारिज कर दी। आयोग ने माना कि विधायकों के बहुमत से समर्थन के कारण अखिलेश ही राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं, इस नाते चुनाव चिह्न पर उनका हक बनता है।

इसलिए फ्रीज नहीं हुआ चुनाव चिह्न
अब तक जितनी भी बार चुनाव चिन्ह फ्रीज हुआ है तब-तब पार्टियां दो फाड़ हुई थीं लेकिन सपा में मामला अलग था। सपा दो टुकड़ों में बंटी नहीं थी, बल्कि अखिलेश और मुलायम दोनों ग्रुप पार्टी पर अपना दावा जता रहे थे। सपा में अपने दावों को मजबूत करने की खातिर एक ओर जहां मुलायम संविधान की दुहाई दे रहे थे तो अखिलेश पार्टी में बहुमत का दम दिखा रहे थे। अपने मंथन में चुनाव आयोग को अखिलेश का पलड़ा ज्यादा भारी नजर आया और उसने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के तौर पर अखिलेश के नाम पर अपनी मुहर लगा दी।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>