मदारी डुगडुगी बजाये और जनता बंदर की तरह खामोशी से नाचे, ये अच्छे दिन नहीं तो और क्या है: आचार्य प्रमोदकृष्णन

Dec 30, 2016
मदारी डुगडुगी बजाये और जनता बंदर की तरह खामोशी से नाचे, ये अच्छे दिन नहीं तो और क्या है: आचार्य प्रमोदकृष्णन

नोटबंदी की वजह से लोगों में पैसे कि बढ़ती किल्लत को देखकर कल्की पीठाधीश्वर आचार्य प्रमोदकृष्णम ने मोदी सरकार निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि, मदारी डुगडुगी बजाए और जनता खामोश नाचती रहे। यह अच्छे दिन नहीं तो क्या है। नोटबंदी के 50 दिन बाद भी लोग परेशान है। किसान बेहाल है। व्यापारी नाखुश है। फिर भी राजनेता को कोई फ़िक्र नहीं हैं। रोजाना बैंको के नियम बदले जा रहे हैं। मोदी सरकार की नीयत पर आचार्य प्रमोदकृष्णम कई बार सवाल उठा चुके हैं।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>