फाइब्रोमेल्जिया का घरेलु उपचार- जानिए

Feb 16, 2017
फाइब्रोमेल्जिया का घरेलु उपचार- जानिए

शोधकर्ताओं का मानना है कि यह शारीरिक और भावनात्मक तनाव का एक संयोजन हो सकता है।इस  समस्या का इलाज करना आसान नहीं है क्योंकि इसका कोई भी निर्धारित इलाज नहीं है । इसलिए इसके उपचार में इसके लक्षणों से निजात दिलाने की कोशिश की जाती है ।इसके दवाओं द्वारा उपचार भी किया जाता है ।साथ ही साथ इसके लिए घरेलू उपचार भी मौजूद है ।

फाइब्रोमिलजिया का घरेलू उपचार में शामिल है। लहसुन ,अदरक की चाय ,गाजर ,चुकंदर ,खीरा मसाले ,सब्जियां ,नारियल पानी आदि इन सभी को अलग-अलग रूपों में उपयोग करना होता है ।यदि हम सही तरह से केयर करें तो फाइब्रो मिल जिया को पूरी तरह खत्म कर सकते हैं।

अदरक
अदरक का सेवन करने से फाइब्रोमिलजिया सिम्टम्स से छुटकारा पाया जा सकता है । इससे दर्द और सूजन दोनों दूर हो जाती है ।अदरक को आप किस से किसी भी तरह से ले सकते हैं ।यह तो किसी रोज की चाय में डाल दिया करें ।खाने में इसका इस्तेमाल करें ।आप जाए तो अदरक को ऐसे ही पानी में उबालकर उस पानी का दिन में दो बार सेवन करें। आप चाहे तो टेस्ट के लिए थोड़ा सा नमक मिला सकते हैं।

सेंधा नमक
मैग्नीशियम की कमी के चलते भी फाइब्रोमिलजिया की समस्या होती है। ऐसे में सेंधा नमक डालकर गर्म पानी की सिकाई से दर्द और दूर होता है । और आराम मिलता है ।इस संसार सेंधा नमक में मैग्नीशियम सफलता होते हैं इसलिए सिंधा नमक बाथ लेने पर हमारा शरीर मैग्नीशियम को एग्जाम कर लेता है ।प्रयोग के लिए गर्म पानी में दो चम्मच सेंधा नमक डालने 20 मिनट के लिए अपने शरीर को इस पानी में रखें। ऐसे हफ्ते में तीन बार करा करें।

लहसुन
लहसुन प्रतिरक्षक प्रणाली को सुधारने में मदद करती है ।इसलिए अपने रोज के खाने में इसको शामिल करें। इस छोटी सी चीज को अपने आहार में शामिल करके आप फाइब्रोमिलजिया को ठीक कर सकते हैं।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>